तीसरे अंपायर को नोबाल देखनी चाहिए : गिलक्रिस्ट

मुंबई/भाषा। आस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज क्रिकेटर एडम गिलक्रिस्ट का मानना है कि तीसरे अंपायर को नोबाल देखनी चाहिए लेकिन वह आईपीएल में चौथे अंपायर के यह फैसला करने के खिलाफ नहीं हैं, बशर्ते सही निर्णय लिया जाए। इंडियन प्रीमियर लीग के दौरान अंपायरों के खराब फैसलों की संख्या में कमी लाने के लिए आईपीएल संचालन परिषद ने नोबाल से जुड़े फैसले के लिए अलग अंपायर रखने का प्रस्ताव रखा जिसके बाद गिलक्रिस्ट ने यह प्रतिक्रिया दी। गिलक्रिस्ट ने कहा, मैदानी अंपायर के लिए पहले नीचे देखना, फिर ऊपर देखना और साथ ही इधर-उधर भी देखना देखना काफी चुनौतीपूर्ण होता है क्योंकि काफी चीजें हो रही होती हैं। निश्‍चित तौर पर पिछले साल रीप्ले में दिखाया गया कि नोबाल फेंकी गई थी। उन्होंने कहा, क्या आपको चौथे अंपायर की जरूरत है, शायद नहीं, आखिल ऐसा क्यों ना हो कि तीसरा अंपायर रीप्ले देखे और फैसला करे। इस पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज ने कहा, मुझे लगता है कि यह अधिक आसान चीज है। अगर इसका मतलब है कि चौथे अंपायर की जरूरत है और वह सही फैसला करेगा तो मैं इसके साथ हूं। क्या अतिरिक्त अंपायर के होने से चीजें धीमी हो जाएंगी, यह पूछे जाने पर गिलक्रिस्ट ने कहा, नहीं ऐसा नहीं है क्योंकि वे तुरंत फैसला कर सकते हैं। मैंने प्रसारण टीम के साथ काम किया है, आपको पांच सेकेंड के अंदर रीप्ले मिल सकता है। पिछले आईपीएल में काफी विवाद हुआ था जब आगे के पैर की नोबाल को लेकर कुछ विवादास्पद फैसले किए गए थे। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने भारतीय अंपायर एस रवि के साथ तीखी बहस भी की थी जो मुंबई इंडियन्स के श्रीलंका के तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा की नोबाल को देखने में विफल रहे थे जो आईपीएल मैच के दौरान रायल चैलेंजर्स बेंगलोर के लिए महंगा साबित हुआ था।