hang the rapists
hang the rapists

हैदराबाद/दक्षिण भारत। यहां एक महिला चिकित्सक से दुष्कर्म और निर्मम हत्या की घटना के बाद आम लोगों में गहरा आक्रोश है, वहीं आरोपियों के परिजन भी इस दरिंदगी के खिलाफ खुलकर सामने आए हैं। उन्होंने कहा है कि अगर आरोपी इस रोंगटे खड़े करने वाली घटना के दोषी करार दिए जाएं और बदले में उन्हें सजा-ए-मौत मिले तो इसका बिल्कुल भी विरोध नहीं करेंगे।

एक आरोपी की मां ने स्पष्ट किया कि गुनहगारों को भी उसी तरह ज़िंदा जला देना चाहिए, जिस तरह से उन्होंने गुनाह को अंजाम दिया। इस घटना के बाद देशभर में लोग मांग कर रहे हैं कि दरिंदों के खिलाफ कानून कार्रवाई कर जल्द फांसी दे दी जाए। खासतौर पर हैदराबाद में लोग सड़कों पर उतरे और भारी विरोध प्रदर्शन किया।

मामले के एक आरोपी सी केशवुलु की मां श्यामला ने कहा कि उसके बेटे को फांसी दे देनी चाहिए या उसी तरह ज़िंदा जला देना चाहिए जिस तरह उसने महिला डॉक्टर की ​ज़िंदगी छीनी। उन्होंने कहा कि मेरी भी एक बेटी है और जानती हूं कि महिला डॉक्टर का परिवार किस तरह दर्द से गुजर रहा है।

महिला डॉक्टर से दुष्कर्म एवं हत्या के आरोपी
महिला डॉक्टर से दुष्कर्म एवं हत्या के आरोपी

पांच महीने पहले हुई थी शादी
आरोपी शख्स की मां ने कहा कि बेटे द्वारा इस घृणित कार्य को करने के बाद उसका बचाव उचित नहीं है। अगर वह उसके बचाव में उतरेगी तो लोग नफरत करेंगे। उसने आरोपी केशवुलु के बारे में बताया कि पांच महीने पहले ही उसकी पसंद की लड़की से शादी करवाई थी। उसे किडनी की बीमारी है, इस वजह से घर संबंधी कोई दबाव नहीं डाला गया। उसे इलाज के लिए हर छह माह के अंतराल पर हैदराबाद के एक बड़े अस्पताल ले जाते हैं।

अपराध के बाद झूठ का सहारा
इस मामले में केशवुलु, जोलू शिवा और जोलू नवीन भी गुडगांडला के निवासी हैं। वहीं, निकवर्ती गांव जकलैर के निवासी मोहम्मद आरिफ की मां मूले बी ने बताया कि बेटे ने इस घटना के बाद परिजनों से कहा कि उसकी गाड़ी से दुर्घटना के कारण एक लड़की की मौत हो गई। मूले बी के मुताबिक, बाकी तीनों आरोपियों का घर पर आना-जाना होता था। वहीं, आरिफ के पिता हुसैन ने बताया कि उन्हें इस बात की कोई जानकारी नहीं थी कि बेटे ने कितने बड़े अपराध को अंजाम दिया है। हुसैन ने कहा कि आरिफ ने जो गुनाह किया है, उसके मुताबिक सजा मिलनी चाहिए।

इसके अलावा शिवा और नवीन के परिजन भी मांग कर रहे हैं कि आरोपियों को उनके द्वारा किए गए अपराध के मद्देनजर कानून के अनुसार सजा मिलनी चाहिए।

ग्रामीणों का फूटा गुस्सा
आरोपियों के खिलाफ ग्रामीणों का भी गुस्सा फूट पड़ा है। ग्रामीणों का कहना है कि इस घटना से गांव पर कलंक लगा है। ग्रामीणों और स्थानीय युवाओं ने रैली निकाली और दोषियों को सख्त सजा देने के लिए आवाज बुलंद की है। घटना के बाद से ही ट्विटर पर महिला डॉक्टर को श्रद्धांजलि दी जा रही है। यूजर्स ने महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों पर चिंता एवं आक्रोश व्यक्त किया है।