मुख्यमंत्री बीएस येडियुरप्पा
मुख्यमंत्री बीएस येडियुरप्पा

बेंगलूरु/भाषा। कर्नाटक सरकार राज्य में सूचना प्रौद्योगिकी तथा ज्ञान आधारित अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए कर्नाटक प्रौद्योगिकी विकास बोर्ड बनाने पर विचार करेगी। राज्य के मुख्यमंत्री बीएस येडियुरप्पा ने सोमवार को इसकी जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि प्रस्तावित बोर्ड व्यापक प्रौद्योगिकी क्षेत्र में निवेश संवर्धन, उद्योग विकास तथा मानव श्रम विकास के लिए जिम्मेदार होगा। इसका लक्ष्य राज्य को उच्च प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में विश्व के सर्वश्रेष्ठ केंद्रों में से एक के रूप में राज्य की स्थिति को मजबूत बनाना होगा।

तीन दिवसीय बेंगलूरु प्रौद्योगिकी सम्मेलन 2019 का उद्घाटन करने के बाद येडियुरप्पा ने कहा कि राज्य ने नीति आयोग की पहली नवोन्मेष रैंकिंग में शीर्ष स्थान हासिल किया है।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री बनने के बाद उद्योगपतियों से मुलाकात के दौरान उन्होंने एक संस्था के जरिए राज्य में नवोन्मेष को बढ़ावा देने की वैधानिक रूपरेखा तैयार करने का वादा किया था जिसे उन्होंने कर्नाटक नवोन्मेष प्राधिकरण के जरिए पूरा किया।

उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि वे इस प्राधिकरण की अध्यक्षता करेंगे और यह प्राधिकरण नियामकीय सैंडबॉक्स स्थापित करने की अनुमति देगा। प्राधिकरण के पास नवोन्मेष को बढ़ावा देने के लिए किसी कानून के प्रावधानों से छूट देने का भी अधिकार होगा।