लखनऊ/भाषा। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर ‘लॉकडाउन’ के दौरान लोगों को परेशानियों से बचाने के लिए घर-घर सामान पहुंचाने (डोर स्टेप डिलीवरी) की तैयारियां कीं।

अपर मुख्य सचिव सूचना एवं गृह, अवनीश अवस्थी ने बताया, ‘मुख्यमंत्री ने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर प्रदेश की स्थिति की समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने इस बात पर जोर दिया कि इस दौरान लोगों को घरों में आवश्यक वस्तुओं की कमी न हो, इसके लिए उनके घर सामान पहुंचाने की व्यवस्था की जाए। घर-घर सामान पहुंचाने के लिए ट्रैक्टर, मोबाइल वैन, ईरिक्शा, ठेले आदि सहित कुल 12,133 वाहनों की व्यवस्था दोपहर तीन बजे तक कर ली थी।’

उन्होंने बताया कि सरकार धार्मिक स्थलों आदि पर सामुदायिक रसोईघर की भी व्यवस्था कर रही है ताकि इस दौरान गरीब मजदूरों को भोजन उपलब्ध कराया जा सके।

उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री हेल्पलाइन की मदद से प्रदेश के 10 हजार से अधिक ग्राम प्रधानों से बात की गई और उनसे कहा गया कि अगर गांव में कोई भी व्यक्ति विदेश से आया है तो उसे घर में ही रहने को कहें और उसके बारे में स्वास्थ्य विभाग को सूचित करें। अवस्थी ने बताया कि इसके अलावा प्रत्येक जिले में एक जिला नियंत्रण कक्ष भी बनाया जा रहा है।