पाकिस्तानी नेता रहमान मलिक एवं यूएनओ गेम
पाकिस्तानी नेता रहमान मलिक एवं यूएनओ गेम

इस्लामाबाद/दक्षिण भारत। अनुच्छेद-370 पर मोदी सरकार द्वारा लिए गए फैसले से पाकिस्तान के राजनेता इस कदर बौखला गए हैं कि ट्वीट करते समय यह भी मालूम नहीं होता कि वे इसमें किसका जिक्र कर रहे हैं। इस पर भारतीय यूजर्स चुटकी लेते हुए कह रहे हैं कि पाकिस्तान के नेता अपना मानसिक संतुलन खोते जा रहे हैं।

दरअसल, ताजा मामला पाकिस्तानी सांसद रहमान मलिक का है, जिन्होंने कश्मीर मामले पर यूएन से प्रधानमंत्री मोदी की ‘शिकायत’ के दौरान बड़ी भूल कर दी और हंसी का पात्र बन गए। मलिक पाकिस्तान के पूर्व आंतरिक मंत्री रहे हैं। इसके अलावा वे संसद की स्थायी समिति के अध्यक्ष हैं। वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना का कोई मौका नहीं छोड़ते।

उन्होंने एएनआई के ट्विटर हैंडल पर कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद का बयान देख टिप्पणी की। इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टैग किया और लिखा, ‘ये आपके नेता हैं और उन्हें सुनिए.. वे कश्मीर में कथित क्रूरता के बारे में क्या कह रहे हैं?’

इस ट्वीट में मलिक ने यूएन को भी टैग करना चाहा लेकिन बड़ी भूल कर बैठे। उन्होंने यूएन के बजाय यूएनओ नामक गेम को टैग कर दिया। इसके बाद वे यूजर्स के निशाने पर आ गए और लोगों ने उनके ट्वीट की जमकर खिल्ली उड़ाई।

परेश नामक एक यूजर ने मलिक को सलाह दी है कि वे यूएन और यूएनओ गेम में फर्क समझकर ट्वीट करें। शाश्वत नामक यूजर ने मलिक को कहा कि आपके पत्ते गलत पड़ गए! मलिक की इस गलती पर चुटकी लेते हुए एक यूजर ने पाकिस्तान की शिक्षा प्रणाली में सुधार की जरूरत बताई है।