hang the rapists
hang the rapists

लखनऊ/भाषा। उन्नाव मामले की जांच के लिए लखनऊ मंडल के मंडलायुक्त (कमिश्नर) ने एडिशनल एसपी के नेतृत्व में पांच सदस्यीय विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया है और पूरी घटना के बारे में रिपोर्ट जल्द प्रस्तुत करने को कहा है।

लखनऊ मंडल के कमिश्नर मुकेश मेश्राम ने शुक्रवार को बताया कि गुरुवार शाम को मैंने अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ घटनास्थल का दौरा किया और उन्नाव के एडिशनल एसपी विनोद पांडेय के नेतृत्व में पांच सदस्यीय एसआईटी का गठन किया। इस टीम को पूरे मामले की गहन जांच पड़ताल कर जल्द से जल्द अपनी रिपोर्ट सौंपने को कहा है।

उनसे पूछा गया कि क्या एसआईटी की जांच के लिये कोई समयावधि निर्धारित की गई है। इस पर मेश्राम ने कहा कि जांच रिपोर्ट जल्द ही उनके पास आ जाएगी जिसे शासन को भेज दिया जाएगा।

गौरतलब है कि उन्नाव के बिहार थानांतर्गत दुष्कर्म पीड़िता (20) को गुरुवार तड़के पांच लोगों ने आग के हवाले कर दिया था। घटना में शामिल सभी पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया था।

उन्नाव के पुलिस अधीक्षक विक्रांत वीर ने बताया कि जिले के बिहार थाना क्षेत्र की रहने वाली 23 वर्षीया युवती ने शिवम और शुभम नामक युवकों पर 12 दिसम्बर, 2018 को बलात्कार का मामला दर्ज करवाया था।

युवती मुकदमे की पैरवी के सिलसिले में रायबरेली रवाना होने के लिए सुबह करीब चार बजे बैसवारा रेलवे स्टेशन जा रही थी। तभी रास्ते में बिहार-मौरांवा मार्ग पर शिवम और शुभम ने अपने साथियों की मदद से उस पर पेट्रोल उड़ेलकर आग लगा दी। युवती का दिल्ली में इलाज चल रहा है। उसकी हालत नाजुक बनी हुई है और उसे वेंटिलेटर पर रखा गया है।