उत्तराखंड पुलिस
उत्तराखंड पुलिस

देहरादून/भाषा। हैदराबाद बलात्कार और हत्याकांड के बाद उत्तराखंड पुलिस अब महिलाओं की ‘डिस्ट्रेस कॉल’ पर तत्काल वहां पहुंचेगी और जरूरत पड़ने पर उन्हें घर तक सुरक्षित छोड़ कर आएगी।

प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था) अशोक कुमार ने यहां बताया कि इसके लिए महिलाएं 112 हेल्पलाइन नंबर पर किसी भी वक्त फोन कर मदद मांग सकती हैं।

उन्होंने कहा, अगर किसी महिला का वाहन खराब हो जाए या घर तक जाने के लिए कोई वाहन न मिले तो पुलिस उसे उसके घर तक सुरक्षित छोड़ कर आएगी। कुमार ने बताया कि पहले चरण में देहरादून में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अरुण मोहन जोशी ने यह व्यवस्था लागू कर दी है।

खासतौर पर रात में महिलाओं की सुरक्षा को देखते हुए यह पहल की गई है। इसके लिए सभी चौक-चौराहों, बस अड्डों और रेलवे स्टेशनों पर पुलिस को पूरी तरह सतर्क रहने को कहा गया है।