जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह
जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह

श्रीनगर/भाषा। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले के खरियू क्षेत्र से आतंकियों के सफाए का अभियान बुधवार को दूसरे दिन भी जारी है। पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) दिलबाग सिंह ने यह जानकारी दी।

मंगलवार को क्षेत्र में आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में सूचना मिलने के बाद सुरक्षा बलों ने खरियू में एक तलाशी अभियान चलाया था। अभियान के दौरान आतंकवादियों ने गोलीबारी की। इसके जवाब में सुरक्षा बलों ने भी कार्रवाई की।

एक अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ में विशेष पुलिस अधिकारी शाहबाज अहमद मौके पर ही शहीद हो गए और सेना का एक जवान घायल हो गया। बाद में जवान ने भी दम तोड़ दिया।

शहीद शाहबाज अहमद को श्रद्धांजलि अर्पित करने के कार्यक्रम से इतर सिंह ने संवाददाताओं से कहा, खरियू अभियान आज (बुधवार) सुबह शुरू किया गया। मंगलवार रात अभियान रोक दिया गया था। अब तक वहां किसी आतंकवादी के मारे जाने की पुष्टि नहीं हुई है। वहां दो आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना हमारे पास है और उनकी तलाश की जा रही है।

डीजीपी ने कहा कि घाटी में आतंकवादियों के खिलाफ अभियान तेज कर दिए गए हैं। उन्होंने कहा, घाटी में आतंकवाद निरोधी अभियानों को तेज कर दिया गया है जिससे दक्षिण कश्मीर में हलचल भी तेज हो गई है। अब तक आधे दर्जन सफल अभियान वहां हुए हैं और वे उसी तरह से जारी रहेंगे। जम्मू-कश्मीर में शांति कायम करने के लिए और यहां के लोगों की खातिर हम कड़ी मेहनत करेंगे।

कश्मीर घाटी में गणतंत्र दिवस कार्यक्रमों की तैयारी को लेकर सिंह ने कहा कि सभी तरह के बंदोबस्त किए जा चुके हैं। उन्होंने कहा, हमने सभी तैयारियां कर ली हैं। घाटी के सभी जिलों में बंदोबस्त किए गए हैं। श्रीनगर में भी सभी सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं। मेरा खयाल है कि 26 जनवरी के कार्यक्रम के लिए भी सभी तैयारियां कर ली गई हैं और यह कार्यक्रम सुगमता से होगा।

श्रीनगर शहर में निगरानी के लिए पुलिस द्वारा ड्रोन के इस्तेमाल के बारे में उन्होंने कहा कि ये पुलिस के तकनीकी मददगार हैं। सिंह ने कहा कि सभी पुलिस बल आज के दौर में इनका इस्तेमाल कर रहे हैं।