नई दिल्ली। पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने सोमवार को कहा कि पूर्वोत्तर क्षेत्र के आठों राज्यों का समग्र विकास मोदी सरकार की प्राथमिकता में हैं और इसके लिए युद्धस्तर पर काम किया जा रहा है। डॉ. सिंह ने यहां पूर्वोत्तर परिषद की ६६वीं सालाना बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्वोत्तर क्षेत्र के विकास के लिए नया एजेंडा तय किया है और उस पर पूरी गंभीरता और उत्साह से काम किया जा रहा है। उन्होेंने पूर्वोत्तर के लिए सरकार की योजनाओं और कार्यक्रमों का जिक्र किया और कहा कि इनसे क्षेत्र का विकास होगा और लोगों के रहन-सहन का स्तर ऊपर उठेगा। सरकार ने क्षेत्र में संपर्कता बढाने के लिए स़डक, रेल और वायु यान परियोजनाएं शुरू की हैं। इसके लिए १८ विशेष परियोजनाओं का चयन किया गया है जिन पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।बैठक में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरेन रिजिजू, मणिपुर की राज्यपाल नजमा हेपतुल्ला, नागालैंड एवं अरुणाचल प्रदेश के राज्यपाल पदमनाभ बालाकृष्णन आचार्य, असम एवं मेघालय के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित, मिजोरम के राज्यपाल निर्भय शर्मा, सिक्किम के राज्यपाल श्रीनिवास पाटिल, त्रिपुरा के राज्यपाल तथागत राय, मिजोरम के मुख्यमंत्री पू ललथनहवला, मेघालय के मुख्यमंत्री मुकुल संगमा, त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक सरकार, मणिपुर के मुख्यमंत्री एन. बिरेन सिंह, नागालैंड के मुख्यमंत्री शुरहोजीले लीजीत्सू, अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पेमा खांडू और असम के वित्त मंत्री हिमंत बिस्वा शर्मा भी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY