हरियाणा सरकार में कैबिनेट मंत्री पद की शपथ लेते हुए अनिल विज
हरियाणा सरकार में कैबिनेट मंत्री पद की शपथ लेते हुए अनिल विज

चंडीगढ़/भाषा। हरियाणा के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के दो सप्ताह से अधिक समय बाद मनोहर लाल खट्टर ने बृहस्पतिवार को 10 सदस्यों को शामिल कर अपने मंत्रिपरिषद का विस्तार किया। छह कैबिनेट रैंक और चार राज्य मंत्रियों को शामिल करने के साथ ही मंत्रिपरिषद में मंत्रियों की संख्या 12 हो गई है।

हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य ने यहां राज भवन के लॉन में एक समारोह में नव नियुक्त मंत्रियों को शपथ दिलायी। शपथ लेने वाले मंत्रियों में से आठ भाजपा से और एक जननायक जनता पार्टी (जजपा) से तथा एक निर्दलीय है।हॉकी खिलाड़ी से नेता बने भाजपा विधायक संदीप सिंह को छोड़कर सभी मंत्रियों ने हिंदी में शपथ ली। भगवा पगड़ी पहनकर सिंह ने पंजाबी भाषा में शपथ ली। कलायत विधानसभा सीट से भाजपा विधायक कमलेश ढांडा मंत्री पद की शपथ लेने वाली इकलौती महिला हैं।

मनोहर लाल के 17 दिन पुराने मंत्रिमंडल में जिन्हें कैबिनेट मंत्री के तौर पर शामिल किया है उनमें अंबाला छावनी से छह बार के विधायक अनिल विज, जगाधरी सीट से भाजपा के पूर्व अध्यक्ष कृष्णपाल गुर्जर, बल्लभगढ़ सीट से भाजपा के मूल चंद शर्मा, रानिया सीट से निर्दलीय और पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला के भाई रणजीत सिंह, लोहारू सीट से भाजपा के जय प्रकाश दलाल और बावल सीट से राज्य के पूर्व मंत्री डॉ. बनवारी लाल शामिल हैं।

जिन्हें राज्य मंत्री के तौर पर शपथ दिलाई गई है उनमें नारनौल सीट से भाजपा के ओम प्रकाश यादव, कलायत सीट से भाजपा की कमलेश ढांडा, उकलाना सीट से जजपा के अनूप धानक और पिहोवा सीट से संदीप सिंह शामिल हैं। खट्टर और जजपा के दुष्यंत चौटाला ने 27 अक्टूबर को क्रमश: मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी।

गुरुवार को हुए विस्तार और शपथ ग्रहण समारोह में केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और कृष्णपाल गुर्जर, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुभाष बराला, प्रदेश भाजपा प्रभारी अनिल जैन, अध्यक्ष ज्ञान चंद गुप्ता, जजपा के प्रदेश अध्यक्ष निशान सिंह, पूर्व मंत्री राम बिलास शर्मा, कैप्टन अभिमन्यु और मनीष ग्रोवर मौजूद थे।