चमचमाते दांत
चमचमाते दांत

वॉशिंगटन/भाषा। वैज्ञानिकों ने ऐसे सूक्ष्म रोबोट विकसित करने में सफलता हासिल कर ली है जो अब दांतों की भी सफ़ाई कर सकेंगे। ये रोबोट दांतों पर जमा होनी वाली पीले रंग की परत यानी प्लॉक की भी सफाई बिना कोई नुकसान पहुंचाए करने में सक्षम हैं।

वैज्ञानिकों ने दो तरह की रोबोटिक प्रणाली विकसित की है। पहली प्रणाली को सतह पर काम करने के लिए बनाया गया गया है जबकि दूसरी प्रणाली की मदद से अंदरूनी हिस्से में प्रवेश किया जा सकता है। इनकी मदद से दांतों में जमा बायोफिल्म को नष्ट किया जा सकता है।

वैज्ञानिकों के अनुसार, बायोफिल्म नष्ट करने वाली इस तरह की रोबोटिक प्रणाली की सहायता से कई तरह के काम किए जा सकते हैं। इनमें पानी के पाइप और कैथेटर को साफ रखने से लेकर दंतक्षय के जोखिम को कम करने, दंत संक्रमण और दांतों में बाहर से लगाई जाने वाली वस्तु (डेंटल इम्प्लांट) से होने वाली खराबी पर नियंत्रण रखा जा सकता है।

अमेरिका के पेनसिल्वेनिया विश्वविद्यालय के हुन कू ने बताया कि इस काम में सूक्ष्म जीव विज्ञानियों और क्लीनिशियन-वैज्ञानिकों की मदद ली गई है। साथ ही संभावित सर्वश्रेष्ठ सूक्ष्म जीव संक्रमण उन्मूलन प्रणाली बनाने के लिए इंजीनियरों को भी शामिल किया गया। अध्ययन रिपोर्ट साइंस रोबोटिक्स पत्रिका में प्रकाशित हुई है। कू ने बताया कि यह शोध दूसरे जैव चिकित्सीय क्षेत्रों में भी कारगर साबित हो सकता है क्योंकि हम उत्तर-एंटीबायोटिक युग में प्रवेश कर रहे हैं।

देश-दुनिया की हर ख़बर से जुड़ी जानकारी पाएं FaceBook पर, अभी LIKE करें हमारा पेज.

LEAVE A REPLY