बेंगलूरु
बेंगलूरु

नई दिल्ली/भाषा। एशिया प्रशांत (एपीएसी) में प्रौद्योगिकी कंपनियों के लिए अपने कार्यालय स्थापित करने के लिए बेंगलूरु और गुरुग्राम दुनिया के पांच पसंदीदा गंतव्यों में हैं।

संपत्ति सलाहकार सीबीआरई की रिपोर्ट के अनुसार, बेहतर कारोबारी परिस्थतियों के अलावा इंजीनियरों की उपलब्धता और रीयल एस्टेट की वृद्धि की वजह से ये क्षेत्र प्रौद्योगिकी कंपनियों की पसंद बने हुए हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि एशिया प्रशांत क्षेत्र में कार्यालय स्थल की मांग में प्रौद्योगिकी कंपनियों का प्रमुख योगदान है, जबकि क्षेत्र में सिलिकॉन वैली जैसा कोई बड़ा शहर या हब नहीं है।

अध्ययन में कारोबारी परिस्थितियों, नवोन्मेषी वातावरण और लागत तथा उपलब्धता के आधार पर एशिया प्रशांत के 15 शहरों को रैंकिंग दी गई है। कारोबार और नवोन्मेष के वातावरण को अध्ययन में 40 प्रतिशत का भारांश दिया गया है जबकि लागत को 20 प्रतिशत का भारांश दिया गया है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि इनमें प्रमुख शहर बीजिंग, बेंगलूरु, शंघाई, सिंगापुर और गुरुग्राम हैं। कारोबार करने की परिस्थितियों तथा नवोन्मेषी माहौल के मामले में इन शहरों की स्थिति काफी अच्छी है। साथ ही लागत और उपलब्धता के मामले में भी इन शहरों की स्थिति बेहतर है।

सीबीआरई इंडिया के चेयरमैन और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) अंशुमन ने कहा कि भारत में प्रौद्योगिकी कंपनियों की संख्या लगातार बढ़ रही है। भारत लगातार ऐसे क्षेत्र के रूप में आगे बढ़ रहा है जहां बदलती प्रौद्योगिकी को तेजी से अपनाया जा रहा है।

देश-दुनिया की हर ख़बर से जुड़ी जानकारी पाएं FaceBook पर, अभी LIKE करें हमारा पेज.

LEAVE A REPLY

16 − 8 =