आईएसआई
आईएसआई

नई दिल्ली/वार्ता। पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान के साथ बढ़े तनाव के बीच जम्मू-कश्मीर की एक गुप्तचार इकाई ने चेतावनी दी है कि पाकिस्तानी सेना की खुफिया एजेंसी और आईएसई जम्मू-कश्मीर में तैनात सुरक्षाबलों के राशन में जहर मिला सकते हैं।

जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों के प्रमुखों को इस रिपोर्ट के आधार पर एक परामर्श भेजा गया है। सुरक्षा बलों के प्रमुखों को कहा गया है कि पाकिस्तान के एक मोबाइल नंबर से भेजे गए संदेशों में दावा किया जा रहा है कि पाकिस्तान की खुफिया एजेसी आईएसआई और राज्य में सक्रिय उसके एजेंटों की वहां तैनात सुरक्षा बलों के राशन में जहर मिलाने की योजना बना रहे हैं।

सुरक्षाबलों के अधिकारियों को सभी शिविरों और खासकर जम्मू-कश्मीर के शिविरों के राशन डिपो पर पर्याप्त सुरक्षा इंतजाम सुनिश्चित करने को कहा गया है। परामर्श में यह भी कहा गया है कि सुरक्षाबलों के इस्तेमाल के लिए देश भर से खरीदे जाने वाले राशन की नियमित जांच हो ताकि अनहोनी को रोका जा सके और ऐसे प्रयास सफल नहीं हो पाएं।

LEAVE A REPLY

3 × four =