शिवसेना संस्थापक बाल ठाकरे की पुण्य तिथि पर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए देवेंद्र फडणवीस
शिवसेना संस्थापक बाल ठाकरे की पुण्य तिथि पर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए देवेंद्र फडणवीस

मुंबई/भाषा। महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस रविवार को जब शिवाजी पार्क में बाल ठाकरे को उनकी नौवीं पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि देने के बाद लौट रहे थे तब शिवसेना के कुछ कार्यकर्ताओं ने उनके खिलाफ नारेबाजी की।

शिवसेना के कुछ कार्यकर्ता पूर्व मुख्यमंत्री के काफिले के नजदीक आकर विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान उनके (फडणवीस के) नारे, ‘मैं वापस लौटूंगा (मुख्यमंत्री के रूप में), को मराठी में लगाने लगे।’ साथ ही उन्होंने शिवसेना के परंपरागत नारे ‘छत्रपति शिवाजी महाराज की जय’ का नारा भी लगाया।

फडणवीस और उनके काफिले में शामिल कई वरिष्ठ नेता इस पर कोई प्रतिक्रिया दिए बगैर आगे बढ़ गए। शिवसेना के संस्थापक को शिवाजी पार्क में श्रद्धांजलि देने के लिए जब फडणवीस पहुंचे, उस वक्त उद्धव ठाकरे के निजी सहायक मिलिंद नारवेकर को छोड़कर शिवसेना का कोई भी नेता वहां मौजूद नहीं था। इससे पहले फडणवीस ने शिवसेना के दिवंगत संरक्षक के कुछ ओजस्वी भाषणों का वीडियो ट्वीट कर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

बता दें कि मुख्यमंत्री पद को लेकर भाजपा और शिवसेना के बीच खींचतान खूब चर्चा में रही। शिवसेना इस पद के लिए 50:50 का फार्मूला चाहती थी, लेकिन भाजपा इस पर सहमत नहीं थी। 288 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा ने 105 सीटें जीतीं, जबकि शिवसेना 56 सीटों पर विजेता रही। वहीं राकांपा ने 54 और कांग्रेस ने 44 सीटों पर जीत दर्ज की। किसी भी दल को स्पष्ट बहुमत नहीं मिलने के मद्देनजर राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू किया गया।