आदर्श आकर्षण-2023: 'जीत या हार के बजाय खेल भावना का प्रदर्शन करना जरूरी'

एसआरएन आदर्श पीयू कॉलेज हाई स्कूल में इंटर स्कूल सांस्कृतिक उत्सव और खेल प्रतियोगिताएं हुईं

आदर्श आकर्षण-2023: 'जीत या हार के बजाय खेल भावना का प्रदर्शन करना जरूरी'

डॉ. प्रज्ञा यादव ने प्रतिभागियों का उत्साहवर्धन किया

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। एसआरएन आदर्श पीयू कॉलेज हाई स्कूल के विद्यार्थियों के लिए इंटर स्कूल सांस्कृतिक उत्सव और खेल प्रतियोगिताओं 'आदर्श आकर्षण' का उद्घाटन सोमवार को किया गया। इस अवसर पर आदर्श विद्या संघ के सचिव जितेंद्र मरडिया ने समारोह की अध्यक्षता की।

प्राचार्य डॉ. एस प्रशांत ने सबका स्वागत किया। मुख्य अतिथि केएचएस आदर्श हाईस्कूल प्राचार्य डॉ. प्रज्ञा यादव थीं। मंच पर एजीआई के अकादमिक डीन डॉ. मनोज जैन मौजूद थे। 'आदर्श आकर्षण’ में विभिन्न कार्यक्रम शामिल हैं, जो 28 और 29 नवंबर को भी होंगे।

जितेंद्र मरडिया ने कहा कि 'आदर्श आकर्षण’ हाई स्कूल के विद्यार्थियों के लिए अपनी प्रतिभा दिखाने और हमारे परिसर का दौरा करने और यह महसूस करने का एक अवसर है कि आदर्श अन्य कॉलेजों से कैसे अलग है।

डॉ. प्रज्ञा यादव ने प्रतिभागियों का उत्साहवर्धन किया। उन्होंने विद्यार्थी की शैक्षिक यात्रा में व्यक्तित्व विकास के महत्त्व पर जोर दिया। उन्होंने विद्यार्थियों को सलाह दी कि वे एक टीम में काम करना सीखें और नेतृत्व के गुण विकसित करें, ताकि उनके भविष्य के करियर में लाभ हो।

उन्होंने यह भी कहा कि जीत या हार के बजाय खेल भावना का प्रदर्शन करना जरूरी है। आदर्श ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस सभी विद्यार्थियों के समग्र विकास के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने प्रतिभागियों को शुभकामनाएं भी दीं।

जीव विज्ञान की व्याख्याता विद्या श्रीकांत ने मुख्य अतिथि का परिचय दिया। अंग्रेजी की व्याख्याता दीपा शेषाद्रि ने समारोह का संचालन किया। कन्नड़ के व्याख्याता डॉ. के मल्लिकार्जुन ने धन्यवाद ज्ञापित किया।

इस अवसर पर विज्ञान प्रदर्शनी, सामाजिक विज्ञान प्रदर्शनी, मेहंदी, हेयर स्टाइलिंग, समूह गायन, उठाओ और बोलो, पावरप्वाइंट प्रस्तुति, गूंगा सारथी, क्रिकेट, वॉलीबॉल, गेंद फेंको, टेबल टेनिस में विभिन्न उच्च विद्यालयों के 500 से अधिक विद्यार्थियों ने भाग लिया।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा
प्रधानमंत्री ने कहा कि छह दशक के परिवारवाद, भ्रष्टाचार और तुष्टीकरण ने उप्र को विकास में पीछे रखा
प्रधानमंत्री मोदी के कुशल नेतृत्व ने भारत को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया: नड्डा
अगले पांच वर्षों में देश आत्मविश्वास से विकास को नई रफ्तार देगा, यह मोदी की गारंटी: प्रधानमंत्री
मुख्य चुनाव आयुक्त ने तमिलनाडु में लोकसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा शुरू की
तेलंगाना: बीआरएस विधायक नंदिता की सड़क दुर्घटना में मौत; मुख्यमंत्री, केसीआर ने जताया शोक
अमेरिका की इस निजी कंपनी ने चंद्रमा पर पहला वाणिज्यिक अंतरिक्ष यान उतारकर इतिहास रचा
पश्चिम बंगाल: भाजपा प्रतिनिधिमंडल संदेशखाली का दौरा करेगा