कुलभूषण जाधव
कुलभूषण जाधव

इस्लामाबाद/नई दिल्ली/भाषा। पाकिस्तान में मौत की सजा का सामना कर रहे भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को शुक्रवार तक राजनयिक पहुंच दी जाएगी। यह जानकारी बृहस्पतिवार को विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने दी।

वहीं, भारत के विदेश मंत्रालय ने कहा कि वह पाकिस्तान के प्रस्ताव का आकलन कर रहा है। भारतीय नौसेना के सेवानिवृत्त अधिकारी जाधव (49) को पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत ने ‘जासूसी और आतंकवाद’ के आरोपों में अप्रैल 2017 में मौत की सजा सुनाई थी, जिसके बाद उनकी सजा पर रोक लगाने के लिए भारत ने अंतरराष्ट्रीय न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था।

फैसल ने साप्ताहिक संवाददाता सम्मेलन में कहा, यहां भारतीय उच्चायोग को सूचित करने के बाद पाकिस्तान भारत के जवाब का इंतजार कर रहा है। नई दिल्ली में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि पाकिस्तान ने जाधव तक भारत की राजनयिक पहुंच के लिए प्रस्ताव भेजा है।

उन्होंने कहा, ‘हम कूटनीतिक चैनलों के माध्यम से पाकिस्तान को जवाब देंगे।’ आईसीजे के 17 जुलाई के आदेश के दो हफ्ते बाद पाकिस्तान ने यह कदम उठाया है।

आईसीजे ने पाकिस्तान को जाधव की सजा की ‘प्रभावी समीक्षा और पुनर्विचार’ करने के लिए कहा था। अंतरराष्ट्रीय न्यायालय ने पाकिस्तान को यह भी निर्देश दिया था कि वह जाधव तक भारत को अविलंब राजनयिक पहुंच दे। आईसीजे ने 42 पन्ने के आदेश में कहा कि पाकिस्तान ने कूटनीतिक संबंधों पर वियना सम्मेलन का उल्लंघन किया।

LEAVE A REPLY

2 × one =