हम कुछ राज्यों में अपनी क्षमताओं और अपेक्षाओं के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाए: खरगे

विस्तारित कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक हुई

हम कुछ राज्यों में अपनी क्षमताओं और अपेक्षाओं के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाए: खरगे

Photo: IndianNationalCongress FB page

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। दिल्ली में शनिवार को विस्तारित कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक हुई। इसमें कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे, सीपीपी चेयरपर्सन सोनिया गांधी, राहुल गांधी समेत कार्य समिति के सदस्य शामिल हुए।

इस दौरान मल्लिकार्जुन खरगे ने कहा कि मैं आपका ध्यान इस तथ्य की ओर आकर्षित करना चाहता हूं कि जहां भी भारत जोड़ो यात्रा गई, हमने कांग्रेस पार्टी के वोट प्रतिशत और सीटों की संख्या में वृद्धि देखी।

खरगे ने कहा कि मणिपुर में हमने दोनों सीटें जीतीं। हमने नागालैंड, असम और मेघालय में भी सीटें जीतीं। महाराष्ट्र में हम सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरे। देश के लोकतंत्र और संविधान को बचाने के लिए सभी वर्गों के लोगों ने कांग्रेस का समर्थन किया।

खरगे ने कहा कि इसके अलावा हमने एससी, एसटी, ओबीसी और अल्पसंख्यक मतदाता बहुल सीटों के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्रों में भी वृद्धि देखी है। आगे बढ़ते हुए, हमें शहरी क्षेत्रों में भी अपनी उपस्थिति दर्ज करानी होगी।

खरगे ने कहा कि जबकि हम पुनरुद्धार का जश्न मना रहे हैं, हमें थोड़ा रुकना चाहिए, क्योंकि हम कुछ राज्यों में अपनी क्षमताओं और अपेक्षाओं के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं। इसके अलावा, हम उन राज्यों में अपना प्रदर्शन नहीं दोहरा सके, जहां हमने पहले विधानसभा चुनावों में अच्छा प्रदर्शन किया था और सरकार बनाई थी।

खरगे ने कहा कि हम जल्द ही ऐसे हर राज्य पर अलग-अलग चर्चा करेंगे। हमें तत्काल सुधारात्मक उपाय करने होंगे। ये वे राज्य हैं, जो परंपरागत रूप से कांग्रेस के पक्ष में रहे हैं, जहां हमारे पास ऐसे अवसर हैं, जिनका हमें अपने फायदे के लिए नहीं, बल्कि अपने लोगों के लाभ के लिए उपयोग करना है। 

खरगे ने कहा कि हमें अनुशासित होना चाहिए, एकजुट रहना चाहिए। लोगों ने हम पर काफी हद तक अपना विश्वास जताया है और हमें इस पर और काम करना चाहिए। हम इस फैसले को पूरी विनम्रता के साथ स्वीकार करते हैं।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

'हिंदी के साथ हमारे स्वाभिमान और राष्ट्रीय एकता का जुड़ाव है' 'हिंदी के साथ हमारे स्वाभिमान और राष्ट्रीय एकता का जुड़ाव है'
राजभाषा के प्रयोग-प्रसार एवं कार्यान्वयन से संबंधित उपलब्धियों को प्रदर्शित करने वाली प्रदर्शनी भी लगाई गई
यूक्रेन को मिलेगी राहत? शांतिवार्ता के लिए पुतिन ने रखीं ये शर्तें
बीएचईएल को थर्मल पावर प्लांट के लिए दो बैक-टू-बैक ऑर्डर मिले
जी-7 शिखर सम्मेलन: मैक्रों समेत इन नेताओं से मिले मोदी, कई मुद्दों पर हुई चर्चा
येडियुरप्पा के खिलाफ गैर-जमानती वारंट पर बोले कुमारस्वामी- पिछले 4 महीनों में पुलिस विभाग क्या कर रहा था?
ऐसा मैसेज आए तो रहें सावधान, यहां सॉफ्टवेयर इंजीनियर और उसके परिवार ने गंवा दिए 5.14 करोड़ रु.
मोदी के नेतृत्व में अंतरराष्ट्रीय मंच पर शानदार प्रदर्शन कर रहा भारत, कांग्रेस को हो रही ईर्ष्या: भाजपा