साइना नेहवाल और पी. कश्यप ने कर ली शादी, ट्विटर पर लगा बधाइयों का तांता

साइना नेहवाल और पी. कश्यप ने कर ली शादी, ट्विटर पर लगा बधाइयों का तांता

saina nehwal and p kashyap wedding

नई दिल्ली। मशहूर बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल और पी. कश्यप ने शुक्रवार को शादी कर ली। साइना ने अपने ट्विटर अकाउंट पर दोनों की तस्वीरें पोस्ट कर इसे अपनी ज़िंदगी का बेहतरीन मैच कहा है। एक रिपोर्ट के अनुसार, दोनों की शादी की तारीख 16 दिसंबर थी, लेकिन दो दिन पहले ही शादी कर उन्होंने अपने प्रशंसकों को चौंका दिया।

रिपोर्ट में बताया गया है कि 14 दिसंबर को रजिस्टरी और कानूनी प्रक्रिया पूरी की गई है। जबकि 16 दिसंबर को धार्मिक परंपराओं का पालन किया जाएगा। उसी रोज शाम 7 बजे हैदराबाद की एक होटल में रिसेप्शन होगा। साइना और पी. कश्यप करीब दस साल से रिलेशनशिप में थे।

शादियों के सीजन में देश के कई सेलेब्स विवाह के बंधन में बंध गए हैं। बॉलीवुड में दीपिका-रणवीर सिंह, प्रियंका-निक जोनस, कपिल और गिन्नी शादी कर चुके हैं। वहीं 13 दिसंबर को पहलवान विनेश फोगाट और सोमवीर ने शादी कर ली। खेलों की दुनिया के कुछ चर्चित नाम गीता फोगाट-पवन कुमार, दीपिका पल्लीकल-दिनेश कार्तिक, ईशांत शर्मा-प्रतिमा सिंह और साक्षी मलिक-सत्यव्रत कादियान पहले ही विवाह के बंधन में बंध चुके हैं। अब इसमें नया नाम साइना नेहवाल और पी. कश्यप का भी जुड़ गया है।

हैदराबाद निवासी दंपती बैडमिंटन के जानेमाने नाम हैं। दोनों के रिश्ते कई बार सोशल मीडिया पर चर्चा में रहे है। हालांकि दोनों ने ही कभी इसका खंडन नहीं किया। साइना ने बताया था कि एक दशक पहले दोनों विदेश टूर पर साथ जाते थे और साथ ट्रेनिंग लेकर टूर्नामेंट मे भाग लिया था। इसके बाद उन्होंने रिश्ते को आगे बढ़ाया और अब विवाह के बंधन में बंध गए।

17 मार्च, 1990 को हरियाणा के हिसार में जन्मीं साइना का परिवार उच्च शिक्षित है। उनके पिता का तबादला हैदराबाद होने पर परिवार यहीं आकर रहने लगा। साइना की मां उषा रानी भी बैंडमिटन खिलाड़ी रही हैं। वे राज्य स्तर पर खेल चुकी हैं। बाद में बेटी ने मां के ख्वाब को आगे बढ़ाया। वहीं पी. कश्यप का ताल्लुक हैदराबाद से है। 8 सितंबर, 1986 को जन्मे कश्यप अर्जुन अवॉर्ड से सम्मानित हो चुके हैं।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Advertisement

Latest News

कर्नाटक सरकार राज्य के अंदर और बाहर कन्नडिगों के हितों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध: बोम्मई कर्नाटक सरकार राज्य के अंदर और बाहर कन्नडिगों के हितों की रक्षा के लिए प्रतिबद्ध: बोम्मई
यहां पत्रकारों से बात करते हुए, मुख्यमंत्री ने कहा कि दोनों राज्यों के लोगों के बीच सद्भाव है
अफगानिस्तान: सड़क किनारे बम धमाका कर पेट्रोलियम कंपनी के 7 कर्मचारियों को बस समेत उड़ाया
भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए अच्छी खबर, विश्व बैंक ने वृद्धि दर अनुमान इतना बढ़ाया
सीमा विवाद: महाराष्ट्र के मंत्रियों के बेलगावी जाने की संभावना नहीं!
बाबरी विध्वंस के तीन दशक बाद अब क्या कहते हैं अयोध्या के लोग?
जनता की प्रतिक्रिया
गुजरात और हिप्र के एग्जिट पोल: भाजपा की सत्ता जारी या कांग्रेस की बारी?