मोदी के पुन: सत्ता संभालने के बाद और साहसी सुधारों की उम्मीद: यूएसआईएसपीएफ

मोदी के पुन: सत्ता संभालने के बाद और साहसी सुधारों की उम्मीद: यूएसआईएसपीएफ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली/भाषा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाले गठबंधन की शानदार जीत के बाद सरकार और अधिक साहसी सुधार लागू कर सकती है। भारत केंद्रित समूह यूएस-इंडिया स्ट्रैटेजिक पार्टनरशिप फोरम (यूएसआईएसपीएफ) ने कहा कि इन सुधारों से भारत अगले 25 साल के लिए अपना रुख तय कर सकेगा।

यूएसआईएसपीएफ के अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी मुकेश अघी ने कहा, भारतीय मतदाताओं ने संकेत दे दिया है कि उन्हें ऐसा नेता चाहिए जो अर्थव्यवस्था को सुधार सके। उनके जीवनस्तर को सुधार सके और रोजगार पैदा कर सके तथा भारत को ऐसा राष्ट्र बना सके जो खुद आगे बढ़ रहा है। उन्हें मोदी में वह व्यक्ति दिखाई दिया है जो इन चीजों को पूरा कर सकता है।

उन्होंने कहा, आकांक्षाएं काफी ऊंची हैं और इतने बड़े जनादेश के बाद हमें लगता है कि और साहसी सुधार किए जाएंगे जो अगले 25 साल के लिए भारत का रुख तय करेंगे। मोदी ने 30 मई को प्रधानमंत्री पद दोबारा संभाला है।

अघी ने कहा कि इस सरकार को काफी तेजी से सुधार करने होंगे। उसे पता है कि आर्थिक एजेंडा को कैसे आगे बढ़ाया जाना है। उन्होंने कहा कि नई सरकार को वैश्विक कंपनियों को आकर्षित करने के लिए श्रम और भूमि सुधारों पर ध्यान देना होगा।

उन्होंने कहा, यदि आप विनिर्माण को आगे बढ़ाना चाहते हैं तो आपको श्रम सुधार करने होंगे। आपको भूमि सुधार लाने होंगे क्योंकि कंपनियों को विनिर्माण के लिए जमीन की जरूरत होगी। सरकार ने दिवाला एवं शोधन अक्षमता संहिता (आईबीसी) को लेकर काफी काम किया है लेकिन उन्हें इसे और प्रभावी बनाना होगा।

भारत-अमेरिका व्यापार के बारे में उन्होंने कहा कि यह दो अंक में बढ़ रहा है। आज भारत-अमेरिका व्यापार 142 अरब डॉलर का है और यह अगले दस साल में 500 अरब डॉलर पर पहुंच सकता है।

देश-दुनिया की हर ख़बर से जुड़ी जानकारी पाएं FaceBook पर, अभी LIKE करें हमारा पेज.

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

पहले की सरकारें ग्रामीण अर्थव्यवस्था की जरूरतों को टुकड़ों में देखती थीं: मोदी पहले की सरकारें ग्रामीण अर्थव्यवस्था की जरूरतों को टुकड़ों में देखती थीं: मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले 10 वर्षों में भारत में दूध उत्पादन में करीब 60 प्रतिशत वृद्धि हुई है
ईडी ने अरविंद केजरीवाल को नया समन जारी किया
सीबीआई ने सत्यपाल मलिक के परिसरों सहित 30 से अधिक स्थानों पर छापे मारे
निवेश पर उच्च रिटर्न का वादा कर एक शख्स से 1.19 करोड़ रु. ठगे
नशे की प्रवृत्ति पर लगाम जरूरी
कर्नाटक सरकार ने अधिवक्ताओं के खिलाफ प्राथमिकी पर उप-निरीक्षक को निलंबित किया
'हार रहे उम्मीदवारों को जिताया' ... पाक के चुनावों में 'धांधली' के आरोपों पर क्या बोला अमेरिका?