राफेल मुद्दे पर राजनाथ सिंह की राहुल को सलाह- ‘आधारहीन आरोप लगाने से पहले सोचें’

राफेल मुद्दे पर राजनाथ सिंह की राहुल को सलाह- ‘आधारहीन आरोप लगाने से पहले सोचें’

rajnath singh

अमरेली। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने राफेल मुद्दे को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को सलाह दी है कि बिना सबूत आरोप न लगाएं। उन्होंने कहा कि फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ओलांद के हवाले से जो खबर आई, उसकी पुष्टि के बाद हकीकत का खुलासा हो जाएगा। बता दें कि ओलांद के हवाले से फ्रांसीसी मीडिया में खबर छपी थी कि भारत सरकार ने रिलायंस डिफेंस को राफेल सौदे में भागीदार बनाने के लिए फ्रांस सरकार से कहा था। इसके बाद राफेल मुद्दा बहस का विषय बन गया।

हालांकि शुक्रवार रात को ही फ्रांस सरकार और राफेल विमान निर्माता कंपनी दसॉल्‍ट एविएशन ने बयान दिया था, जिसके मुताबिक वे पूरी तरह मोदी सरकार के पक्ष में आईं और कहा कि इस सौदे में किसी किस्म का कोई दबाव नहीं था। फ्रांस सरकार की ओर से कहा गया कि राफेल विमान सौदे के लिए भारतीय भागीदार चुनने में सरकार की कोई भूमिका नहीं थी। भारतीय अधिग्रहण प्रक्रिया के मुताबिक फ्रांस की कंपनी को यह अधिकार है कि वह जिसे ठीक समझे, भारतीय भागीदार के रूप में चुने।

राहुल गांधी ने इस मुद्दे को उठाया और कई आरोप लगाए। अब राजनाथ सिंह ने उन्हें सलाह दी है कि बिना सबूत आरोप नहीं लगाने चाहिए। उन्होंने कहा, सरकार ने मुद्दे पर एक बयान जारी किया है। पहले खबर का सत्यापन होने दीजिए। उससे स्थिति स्पष्ट होगी, उससे सच्चाई का खुलासा हो जाएगा।

राजनाथ सिंह ने कहा, किसी को भी कोई आधारहीन आरोप लगाने से पहले चार बार सोचना चाहिए। किसी को भी सबूत के बिना आरोप नहीं लगाने चाहिए। इसस पहले उन्होंने एक बैठक को संबोधित करते हुए कहा, हमारे प्रधानमंत्री का एक सपना है कि देश में सभी के पास एक घर होना चाहिए। उनका सपना आसानी से पूरा हो सकता है यदि सहकारी क्षेत्र आवास क्षेत्र में आगे आए। उन्होंने सहकारी बैंकों द्वारा किसानों को कर्ज देने पर कहा कि यदि देश का किसान समृद्ध होगा तो भारत को समृद्ध होने से कोई नहीं रोक सकता।

ये भी पढ़िए:
– यहां एटीएम से नोट नहीं, निकल रहे हैं लड्डू, लोगों की लग गई कतार
– ‘जलेबी’ के लिए अपने परिवार और दोस्तों से दूर हुईं रिया चक्रवर्ती
– सोशल मीडिया के जरिए खूबसूरती और प्रेम के जाल में यूं फंसा रही है पाकिस्तान की आईएसआई
– तीन तलाक के विरुद्ध अध्यादेश से मुस्लिम महिलाएं खुश, मोदी बने ‘भाईजान’

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News