कर्नाटक में 5वीं चुनावी गारंटी 'युवा निधि' का पंजीकरण शुरू हुआ

योजना के तहत वितरण 12 जनवरी, 2024 से शुरू होगा, जो स्वामी विवेकानंद की जयंती है

कर्नाटक में 5वीं चुनावी गारंटी 'युवा निधि' का पंजीकरण शुरू हुआ

Photo: DKShivakumar.official FB page

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्दरामैया ने मंगलवार को यहां स्नातकों और डिप्लोमा धारकों को बेरोजगारी सहायता की पेशकश करते हुए पांचवीं चुनावी गारंटी 'युवा निधि' का पंजीकरण शुरू किया।

योजना के तहत वितरण 12 जनवरी, 2024 से शुरू होगा, जो स्वामी विवेकानंद की जयंती है। यह योजना शैक्षणिक वर्ष 2022-23 में उत्तीर्ण होने वाले स्नातकों को 3,000 रुपए और डिप्लोमा धारकों को 1,500 रुपए की मौद्रिक सहायता देती है।

यह पैसा उन लोगों को दिया जाएगा, जिन्हें डिग्री/डिप्लोमा उत्तीर्ण करने की तारीख से 180 दिन पूरे होने के बाद भी नौकरी नहीं मिली है। अधिकारियों ने कहा कि उम्मीदवारों को कम से कम छह साल के लिए कर्नाटक का अधिवास साबित करना जरूरी है।

बेरोजगारी भत्ता परिणाम घोषित होने की तारीख से दो साल की अवधि के लिए या उसके नियोजित/स्वरोजगार होने तक, जो भी पहले हो, दिया जाएगा। राशि सीधे लाभार्थियों के बैंक खाते में स्थानांतरित की जाएगी।

कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्री शरणप्रकाश पाटिल के मुताबिक, इस साल योजना के लिए 250 करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं। अगले साल 1,250 करोड़ रुपए और उसके अगले साल करीब 2,500 करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है।

जो लोग लाभ लेना चाहते हैं, वे 'सेवा सिंधु पोर्टल' पर लॉग इन करके या 'कर्नाटक वन', 'बेंगलूरु वन', 'ग्राम वन' और 'बापूजी सेवा केंद्र' के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। नामांकन निःशुल्क होगा।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

अंजलि हत्याकांड: कर्नाटक के गृह मंत्री ने परिवार को इन्साफ मिलने का भरोसा दिलाया अंजलि हत्याकांड: कर्नाटक के गृह मंत्री ने परिवार को इन्साफ मिलने का भरोसा दिलाया
Photo: DrGParameshwara FB page
तृणकां-कांग्रेस मिलकर घुसपैठियों के कब्जे को कानूनी बनाना चाहती हैं: मोदी
अहमदाबाद: आईएसआईएस के 4 'आतंकवादियों' की गिरफ्तारी के बारे में गुजरात डीजीपी ने दी यह जानकारी
5 महीने चलीं उन फांसियों का रईसी से भी था गहरा संबंध! इजराइली मीडिया ने ​फिर किया जिक्र
ईरानी राष्ट्रपति का निधन, अब कौन संभालेगा मुल्क की बागडोर, कितने दिनों में होगा चुनाव?
बेंगलूरु में रेव पार्टी: केंद्रीय अपराध शाखा ने छापेमारी की तो मिलीं ये चीजें!
ओडिशा को विकास की रफ्तार चाहिए, यह बीजद की ढीली-ढाली नीतियों वाली सरकार नहीं दे सकती: मोदी