बिहार: पांच लोकसभा सीटों पर सुबह 10 बजे तक 15 प्रतिशत मतदान

बिहार: पांच लोकसभा सीटों पर सुबह 10 बजे तक 15 प्रतिशत मतदान

बिहार के भागलपुर स्थित एक मतदान केंद्र की तस्वीर, जिसे सोशल मीडिया पर खूब पसंद किया जा रहा है।

पटना/भाषा। लोकसभा चुनाव 2019 के दूसरे चरण के तहत बिहार की पांच लोकसभा सीटों किशनगंज, कटिहार, पूर्णिया, भागलपुर और बांका में सुबह 10 बजे तक करीब 15 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी संजय कुमार सिंह ने बताया कि किशनगंज, कटिहार, पूर्णिया, भागलपुर और बांका में सुबह 10 बजे तक क्रमश: 15.5 प्रतिशत, 15.0 प्रतिशत, 15.0 प्रतिशत, 15.0 प्रतिशत और 14.4 प्रतिशत मत पड़े।

उन्होंने बताया कि इन संसदीय क्षेत्रों में निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण ढंग से मतदान सम्पन्न कराने के लिए पुलिस बल के अलावा पूर्णिया में हेलीकॉप्टर तथा पटना में एयर एंबुलैंस तैनात की गई है। इसके अलावा 154 जगहों पर वेबकास्टिंग की व्यवस्था भी की गयी है।

संजय ने बताया कि बांका संसदीय क्षेत्र के दो विधानसभा क्षेत्रों कटोरिया एवं बेलहर को छोड़कर पांचों संसदीय क्षेत्रों में मतदान का समय सुबह सात बजे से अपराह्न छह बजे तक निर्धारित किया गया है और इन लोकसभा क्षेत्रों में कुल 8644 मतदान केंद्र बनाए गए हैं।

नक्सल प्रभावित कटोरिया तथा बेलहर विधानसभा क्षेत्रों में मतदान का समय सुबह सात बजे से अपराह्न चार बजे तक निर्धारित किया गया है।

संजय ने बताया कि सुचारू रूप से मतदान सम्पन्न कराने के लिए इन संसदीय क्षेत्रों के लिए 8,644 कंट्रोल यूनिट, 12218 बैलट यूनिट और 8644 वीवीपैट की व्यवस्था की गई है।

उन्होंने बताया इन पांचों संसदीय क्षेत्रों में मतदाताओं की कुल संख्या 85 लाख 52 हजार 274 है। इनमें पुरुष मतदाताओं की संख्या 44 लाख 92 हजार 599 है और महिला मतदाताओं की संख्या 40 लाख 59 हजार 375 है। वहीं थर्ड जेंडर की संख्या 300 है।

संजय ने बताया कि इन संसदीय क्षेत्रों में कुल 68 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं, जिनमें तीन महिला प्रत्याशी भी शामिल हैं। सबसे अधिक बांका में 20 और भागलपुर और कटिहार में नौ-नौ उम्मीदवार चुनाव में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

अंजलि हत्याकांड: कर्नाटक के गृह मंत्री ने परिवार को इन्साफ मिलने का भरोसा दिलाया अंजलि हत्याकांड: कर्नाटक के गृह मंत्री ने परिवार को इन्साफ मिलने का भरोसा दिलाया
Photo: DrGParameshwara FB page
तृणकां-कांग्रेस मिलकर घुसपैठियों के कब्जे को कानूनी बनाना चाहती हैं: मोदी
अहमदाबाद: आईएसआईएस के 4 'आतंकवादियों' की गिरफ्तारी के बारे में गुजरात डीजीपी ने दी यह जानकारी
5 महीने चलीं उन फांसियों का रईसी से भी था गहरा संबंध! इजराइली मीडिया ने ​फिर किया जिक्र
ईरानी राष्ट्रपति का निधन, अब कौन संभालेगा मुल्क की बागडोर, कितने दिनों में होगा चुनाव?
बेंगलूरु में रेव पार्टी: केंद्रीय अपराध शाखा ने छापेमारी की तो मिलीं ये चीजें!
ओडिशा को विकास की रफ्तार चाहिए, यह बीजद की ढीली-ढाली नीतियों वाली सरकार नहीं दे सकती: मोदी