पुराने दर्द को दूर करने में भी योगाभ्यास बड़ा असरदार

योग में शामिल विश्राम तकनीकें पीठ के निचले हिस्से में दर्द, गठिया, सिरदर्द और कार्पल टनल सिंड्रोम को कम कर सकती हैं

पुराने दर्द को दूर करने में भी योगाभ्यास बड़ा असरदार

Photo: PixaBay

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। योग का उद्देश्य क्या है? हर योगाभ्यासी के लिए इसका उत्तर अलग-अलग हो सकता है। अमेरिका के कैलिफोर्निया में पारिवारिक चिकित्सक और कुंडलिनी योग प्रशिक्षक नताली नेविंस का कहना है कि योग का उद्देश्य मन और शरीर दोनों में शक्ति, जागरूकता और सामंजस्य का निर्माण करना है।

डॉ. नेविंस कहती हैं, 'एक चिकित्सक के रूप में, मैं निवारक दवा के अलावा अभ्यासों और शरीर की खुद को ठीक करने की क्षमता पर अपना सारा ध्यान केंद्रित करती हूं।' वे बताती हैं कि योग स्वस्थ रहने के लिए एक बेहतरीन माध्यम है, क्योंकि यह वैज्ञानिक सिद्धांतों पर आधारित है।

उनके अनुसार, 'योग में शामिल विश्राम तकनीकें पुराने दर्द, जैसे- पीठ के निचले हिस्से में दर्द, गठिया, सिरदर्द और कार्पल टनल सिंड्रोम को कम कर सकती हैं।' वे बताती हैं कि योग रक्तचाप और निद्रा से संबंधित समस्याओं को भी कम कर सकता है।

डॉ. नेविंस ने अपने अनुभव से पाया कि नियमित योगाभ्यास हमें ये फायदे देता है-

- लचीलापन बढ़ाता है।
- मांसपेशियों की ताकत बढ़ाता है।
- श्वसन, ऊर्जा और जीवन शक्ति में सुधार लाता है।
- संतुलित चयापचय बनाए रखने में मददगार है।
- योगाभ्यास वजन घटाने में असरदार है।
- कार्डियो और रक्त संचार के संबंध में लाभदायक है। 
- खिलाड़ियों के प्रदर्शन में सुधार ला सकता है।
- चोट लगने पर शीघ्र स्वास्थ्य-लाभ को संभव बनाता है।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

'मेक-इन इंडिया' के सपने को साकार करने में एचएएल की बहुत बड़ी भूमिका: रक्षा राज्य मंत्री 'मेक-इन इंडिया' के सपने को साकार करने में एचएएल की बहुत बड़ी भूमिका: रक्षा राज्य मंत्री
उन्होंने एचएएल के शीर्ष प्रबंधन को संबोधित किया
हर साल 4000 से ज्यादा विद्यार्थियों को ऑटोमोटिव कौशल सिखा रही टाटा मोटर्स की स्किल लैब्स पहल
भोजशाला: सर्वेक्षण के खिलाफ याचिका सूचीबद्ध करने पर विचार के लिए उच्चतम न्यायालय सहमत
इमरान ख़ान की पार्टी पर प्रतिबंध लगाएगी पाकिस्तान सरकार!
भोजशाला मामला: एएसआई ने सर्वेक्षण रिपोर्ट मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय को सौंपी
उच्चतम न्यायालय ने सीबीआई की एफआईआर को चुनौती देने वाली शिवकुमार की याचिका खारिज की
ईश्वर ही था, जिसने अकल्पनीय घटना को रोका, अमेरिका को एकजुट करें: ट्रंप