सामने आएगा संदेशखाली का सच? सीबीआई ने लगाया शिविर

यह शिविर जांच अधिकारियों को 'ग्राउंड जीरो' से काम करने और जानकारी एकत्र करने का अवसर भी देगा

सामने आएगा संदेशखाली का सच? सीबीआई ने लगाया शिविर

Photo: cbi website

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। सीबीआई ने उन स्थानीय लोगों के बीच विश्वास पैदा करने के अपने उपायों के तहत संदेशखाली में एक शिविर स्थापित किया है, जिन्हें कथित तौर पर यौन उत्पीड़न के बारे में केंद्रीय एजेंसी को बताने के लिए परेशान किया जा रहा था। अधिकारियों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि सीआरपीएफ कर्मियों द्वारा संरक्षित शिविर जांच अधिकारियों को 'ग्राउंड जीरो' से काम करने और जानकारी एकत्र करने का अवसर भी देगा।

यह कदम कलकत्ता उच्च न्यायालय द्वारा एजेंसी को उन मामलों में विश्वास-निर्माण के उपाय करने के निर्देश की पृष्ठभूमि में उठाया गया है, जहां शिकायतकर्ता पर्याप्त सुरक्षा चाहते हैं।

याचिकाकर्ता-वकील प्रियंका टिबरेवाल ने अदालत को बताया था कि भयावह घटनाओं का विवरण देने वाले हलफनामे दाखिल करने के बावजूद, यौन उत्पीड़न की कुछ पीड़िताएं डर के कारण बोलने से झिझक रही हैं।

उन्होंने पहले की सुनवाई के दौरान अदालत में कई सौ शिकायतें प्रस्तुत की थीं, जिनमें यौन हिंसा, भूमि पर कब्जा, हमला और संपत्ति को नष्ट करने के आरोप शामिल थे।

इसके बाद अदालत ने कहा, 'एक प्रमुख जांच एजेंसी के रूप में, उनके पास पीड़ितों के सही बयान दर्ज करने के लिए सभी साधन और विशेषज्ञता होगी।'

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

जमीन से जुड़ाव जरूरी जमीन से जुड़ाव जरूरी
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य इंद्रेश कुमार द्वारा लोकसभा चुनाव नतीजों पर की गई टिप्पणी के...
'हिंदी के साथ हमारे स्वाभिमान और राष्ट्रीय एकता का जुड़ाव है'
यूक्रेन को मिलेगी राहत? शांतिवार्ता के लिए पुतिन ने रखीं ये शर्तें
बीएचईएल को थर्मल पावर प्लांट के लिए दो बैक-टू-बैक ऑर्डर मिले
जी-7 शिखर सम्मेलन: मैक्रों समेत इन नेताओं से मिले मोदी, कई मुद्दों पर हुई चर्चा
येडियुरप्पा के खिलाफ गैर-जमानती वारंट पर बोले कुमारस्वामी- पिछले 4 महीनों में पुलिस विभाग क्या कर रहा था?
ऐसा मैसेज आए तो रहें सावधान, यहां सॉफ्टवेयर इंजीनियर और उसके परिवार ने गंवा दिए 5.14 करोड़ रु.