राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष गोगामेड़ी की गोली मारकर हत्या : पुलिस

राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष गोगामेड़ी की गोली मारकर हत्या : पुलिस

जयपुर / भाषा । जयपुर में मंगलवार को अज्ञात हमलावरों ने श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के घर में घुसकर उन पर गोलियां चला दीं। पुलिस के अनुसार गोगामेड़ी की बाद में अस्पताल में मौत हो गई। पुलिस के अनुसार इस घटना के दौरान हमलावरों ने अपने साथ एक व्यक्ति को भी गोली मार दी तथा घर में मौजूद एक अन्य व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया। उसके अनुसार आरोपियों को पकड़ने के लिए सख्त नाकेबंदी की गई है और हमले की जिम्मेदारी रोहित गोदारा गैंग ने ली है।

पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) उमेश मिश्रा ने बताया कि हमलावर बातचीत करने के बहाने गोगामेड़ी के घर में दाखिल हुए और कुछ देर बातचीत करने के बाद उन्होंने गोलियां चलाना शुरु कर दिया। उनके अनुसार गोगामेड़ी के गार्ड ने भी जवाबी गोली चलाई। मिश्रा ने बताया कि बाद में दोनों हमलावरों ने उनके साथ आये नवीन शेखावत को भी गोली मार दी। उनके मुताबिक इस वारदात में गोगामेड़ी और नवीन की मौत हो गई जबकि परिचित अजीत गंभीर रूप से घायल हो गया।

डीजीपी के अनुसार आरोपियों की तलाश के लिए पुलिस द्वारा सख्त नाकेबंदी कर संभावित ठिकानों पर दबिश दी जा रही है। उन्होंने लोगों से धैर्य और शांति बनाए रखने की अपील करते हुए पुलिस को विशेष सतर्कता बरतने और सुरक्षा बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने बताया,‘‘इस घटना की रोहित गोदारा गैंग ने जिम्मेदारी ली है। इसे ध्यान में रखते हुए पड़ोसी जिलों और बीकानेर संभाग में भी बदमाशों के संपर्क वाले लोगों को चिन्हित कर लगातार दबिश दी जा रही है।’’

उन्होंने बताया कि उन्होंने पड़ोसी राज्य हरियाणा के पुलिस महानिदेशक से स्वयं बात कर उनसे सहयोग मांगा मांगा है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि शीघ्र ही अपराधियों को गिरफ्तार करने में पुलिस टीम को सफलता मिलेगी। गोगामेड़ी पर हमले का पूरा घटनाक्रम घर पर लगे सीसीटीवी कैमरे में रिकार्ड हो गया।

पुलिस के अनुसार बुरी तरह घायल गोगामेड़ी को मानसरोवर के एक अस्पताल में ले जाया गया जहां उनकी मौत हो गई। आरोपियों की तुरंत गिरफ्तारी की मांग को लेकर बडी संख्या में गोगामेड़ी के समर्थक अस्पताल के बाहर धरने पर बैठ गए। समर्थकों ने बुधवार को जयपुर बंद का आह्वान किया है। इसके साथ ही समर्थकों ने प्रदेश व्यापी बंद करने की चेतावनी भी दी है। गोगामेड़ी की हत्या के बाद समर्थकों ने अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए जयपुर, जोधपुर, अलवर, चूरू, उदयपुर में विरोध प्रदर्शन किया है।

घटना के बाद राज्यपाल कलराज मिश्र ने पुलिस से अपराधियों के खिलाफ कड़ी और प्रभावी कार्रवाई करने के निर्देश दिए। राजभवन के प्रवक्ता के अनुसार राज्यपाल ने पुलिस महानिदेशक उमेश मिश्रा से फोन पर तथ्यात्मक जानकारी ली और प्रदेश में कानून एवं शांति व्यवस्था को सभी स्तरों पर सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए। राज्यपाल ने कहा कि अपराधी कोई भी हो, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए।

गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई गिरोह से जुड़े रोहित गोदारा ने सोशल मीडिया पर वायरल एक पोस्ट में गोगामेड़ी की हत्या की जिम्मेदारी ली है। उसने कहा है कि गोगामेड़ी उसकी गैंग के दुश्मनों का समर्थन कर रहा था और उन्हें सशक्त कर रहा है। भारतीय जनता पार्टी एवं कांग्रेस दोनों दलों के नेताओं ने इस नृशंस हत्या पर दुख जताया है। भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष सी पी जोशी ने कहा,‘‘गोगामेड़ी ने लंबे समय से प्रशासन को सुरक्षा बढ़ाए जाने की मांग की थी लेकिन प्रशासन वह उपलब्ध नहीं करा पाया। प्रशासन सुरक्षा क्यों नहीं उपलब्ध करा पाया.. क्या कारण रहे, यह भी एक जांच का विषय है लेकिन अराजकता फैलाने वाले ऐसे अपराधियों को तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए।’’

निवर्तमान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने 'एक्स' पर लिखा, ‘‘सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या की घटना बेहद दुखद है। मैं ईश्वर से दिवंगत आत्मा को शांति एवं परिजनों को इस आघात को सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूं।’’

साल 2023 के विधानसभा चुनावों से पहले गोगामेड़ी ने कांग्रेस से टिकट मांगा था, जिसके बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने नवंबर में उन्हें लिखा था कि टिकट केवल एक उम्मीदवार को दिया जा सकता है और उन्हें पार्टी द्वारा घोषित आधिकारिक उम्मीदवार का समर्थन करना चाहिए। करणी सेना के संस्थापक और संरक्षक लोकेंद्र सिंह कालवी के साथ मतभेदों के बाद गोगामेड़ी 2015 में श्री राजपूत करणी सेना से अलग हो गए और उन्होंने श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना का गठन किया। इन दोनों संगठनों ने राजपूत समुदाय के संदर्भ में ऐतिहासिक तथ्यों से कथित छेड़छाड़ को लेकर फिल्म पद्मावत का विरोध किया था।

जयपुर के पुलिस आयुक्त बीजू जॉर्ज जोसेफ ने संवाददाताओं से कहा,‘‘तीन लोग गोगामेड़ी के आवास पर गए और उन्होंने उनके सुरक्षाकर्मियों से कहा कि वे गोगामेड़ी से मिलना चाहते हैं। सुरक्षाकर्मी उन्हें अंदर ले गए जहां उन्होंने गोगामेड़ी से दस मिनट तक बातचीत की। इसके बाद, उन्होंने उन पर गोलियां चला दीं।’’ जोसेफ ने कहा कि इस घटना के बाद दो हमलावर घर से बाहर निकले और एक व्यक्ति से स्कूटी छीनकर फरार हो गए।

उन्होंने बताया,‘‘पूरी घटना सीसीटीवी में रिकार्ड हो गई। हम घटना में संलिप्त दो आरोपियों की पहचान करने और उनका पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं। हत्या की साजिश रचने वाले भी पकड़े जायेंगे।’’ गोगामेड़ी के एक रिश्तेदार ने अस्पताल के बाहर संवाददाताओं से कहा कि उन्हें पहले भी धमकी दी गई थी और उन्हें हमले की आशंका थी। उन्होंने बताया कि धमकी के बारे में पुलिस को भी जानकारी दी गयी।

Google News
Tags:

About The Author

Related Posts

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा
प्रधानमंत्री ने कहा कि छह दशक के परिवारवाद, भ्रष्टाचार और तुष्टीकरण ने उप्र को विकास में पीछे रखा
प्रधानमंत्री मोदी के कुशल नेतृत्व ने भारत को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया: नड्डा
अगले पांच वर्षों में देश आत्मविश्वास से विकास को नई रफ्तार देगा, यह मोदी की गारंटी: प्रधानमंत्री
मुख्य चुनाव आयुक्त ने तमिलनाडु में लोकसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा शुरू की
तेलंगाना: बीआरएस विधायक नंदिता की सड़क दुर्घटना में मौत; मुख्यमंत्री, केसीआर ने जताया शोक
अमेरिका की इस निजी कंपनी ने चंद्रमा पर पहला वाणिज्यिक अंतरिक्ष यान उतारकर इतिहास रचा
पश्चिम बंगाल: भाजपा प्रतिनिधिमंडल संदेशखाली का दौरा करेगा