चेन्नई में चलेंगी बैटरी चालित बसें

चेन्नई में चलेंगी बैटरी चालित बसें

चेन्नई। राज्य परिवहन निगम की बसों को लगातार हो रहे नुकसान और ईंधन में आने वाले खर्च को कम करने के लिए राज्य सरकार ऐसी बसों को लाने पर विचार कर रही है जिसमें ईंधन का खर्च कम हो। राज्य सरकार वर्ष २०१८ तक राज्य में २०० बैटरी चालित बसों को उतारने के लिए तैयार है। राज्य के परिवहन मंत्री एमआर विजयभाष्कर ने कहा है कि इस प्रकार की बसों का परिचालन चेन्नई में किया जाएगा।नोएडा में चल रहे ऑटो एक्सपो २०१८ का दौरा करने के बाद पत्रकारों से बातचीत में मंत्री ने यह बातें बताई। शुक्रवार से शुरु हुए इस ऑटो एक्सपो में कई ऑटोमोबाइल कंपनियों द्वारा अपने वाहनों के नए मॉडलों तथा पुरानी गाि़डयों को नए रंग रुप में पेश किया गया है। एक्सपो में तीन मिनट में चार्ज होने वाली बैटरी चलित बसें, मोटरसाइकिल और कारें यहां आने वाले लोगों को खासा आकर्षित कर रही है। यह एक्सपो १४ फरवरी तक चलेगा और देखने के लिए तमिलनाडु समेत अन्य राज्यों के परिवहन मंत्रियों को भी आमंत्रित किया गया है। परिवहन मंत्री विजयभास्कर ने भी इस प्रदर्शनी को देखने के बाद पत्रकारों को बैटरी चालित बसों का उपयोग करने पर होने वाले फायदे के बारे में बताते हुए कहा कि आमतौर पर एक बस में डीजल भरने में कम से कम ७ से १० मिनट का समय लग जाता है। हालांकि इले्ट्रिरक बसों बसों की बैटरी केवल तीन मिनट में ही चार्ज हो जाती है। इसके साथ ही इले्ट्रिरक बसों के रख-रखाव में आने वाला खर्च भी सामान्य बसों की तुलना में कम है।परिवहन मंत्री ने कहा कि सरकार इस वर्ष दिसंबर तक ऐसी २०० बसों को चेन्नई में उतारेगी। ज्ञातव्य है कि इंर्धन की बचत करने के साथ ही इस प्रकार की बसों से पर्यावरण को भी कम नुकसान होता है और यही कारण है कि इन बसों की खरीद पर केंद्र सरकार से ५० फीसदी तक का अनुदान भी मिल जाता है। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की बसों को खरीदने के लिए राज्य सरकार की ओर से वित्तीय मदद का अनुरोध करते हुए केन्द्र सरकार को एक फाइल भेजी गई है। विजयभाष्कर ने कहा कि इन बैटरी चालित बसों का परिचालन चेन्नई में करने के उद्देश्य से केंद्रीय सहायता प्राप्त करने की पूरी कोशिश हो रही है।एक्सपो से लौटने के बाद राज्य के परिवहन मंत्री ने कहा कि पत्रकारों से कहा कि एक्सपो में आने वाली पीढियों की जरुरतों को ध्यान में रखते इले्ट्रिरक कारों और बसों तथा मोटरसाइकिलों को प्रदर्शित किया गया है। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने केंद्रीय भूतल परिवहन मंत्रालय से हमने २०० बैटरी चालित बसों को खरीदने के लिए आवश्यक राशि उपलब्ध करवाने का अनुरोध किया गया है। केंद्र सरकार ने राज्य सरकार को इस संबंध में सकारात्मक आश्वासन दिया है। उन्होंने बताया कि नई तकनीक और सुविधाओं से लैस इन बैटरी चालित बसों कीमत सामान्य बसों से अधिक है। चार बैटरियों वाली एक बस एक बार में लगभग २५० किमी की दूरी तय कर सकती है। साथ ही इन बसों का वजन भी सामान्य बसों से अधिक होता है।इन बसों में ऑटोमैटिक बैटरी लगाने की सुविधा भी दी गई है। एक्सपों में बैटरी चालित कुछ ऐसी बसें भी पेश की गई है जिन्हें एक बार पूरी तरह से चार्ज करने पर ५० किलोमीटर दूरी तक चलाया जा सकता है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List