बेहतर सर्विस डिलीवरी से आमजन तक पहुंचाएं सरकार की योजनाओं का लाभ : वसुन्धरा राजे

बेहतर सर्विस डिलीवरी से आमजन तक पहुंचाएं सरकार की योजनाओं का लाभ : वसुन्धरा राजे

जयपुर। मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने जिला कलेक्टरों को सर्विस डिलीवरी बेहतर बनाने और फील्ड में जाकर लोगों से बातचीत कर उनकी समस्याओं का निस्तारण करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि सर्विस डिलीवरी बेहतर होगी तो राज्य सरकार की योजनाओं और कार्यक्रमों का ज्यादा से ज्यादा लाभ आमजन तक पहुंचेगा। राजे रविवार को कलेक्टर कॉन्फ्रेंस के समापन सत्र को सम्बोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि जिला कलेक्टर को राज्य सरकार की आंख एवं कान कहा जाता है, इसलिए जरूरी है कि वे जिलों का लगातार दौरा करें और आमजन से जु़डी योजनाओं का फीडबैक लें। उन्होंने कहा कि राजस्व मामलों के निस्तारण पर फोकस किया जाए ताकि लोगों को राहत मिल सके। गर्मी में लोगों को पेयजल के लिए परेशान नहीं होना प़डे, इसके लिए कलेक्टर अभी से ही योजना बनाकर काम शुरू कर दें। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिन जिलों में नवाचार हुए हैं वहां के कलेक्टर उन नवाचारों को दूसरे जिलों के साथ साझा करें, ताकि उनका लाभ प्रदेश के सभी लोगों को मिल सकें। उन्होंने कहा कि प्रदेशभर में से भवन एवं सम्पत्तियां जिनका उपयोग नहीं हो रहा है संबंधित विभागों से सम्पर्क कर उनका उपयोग सुनिश्चित किया जाए। राजे ने कहा कि वर्ष २०१८-१९ के बजट की घोषणाओं को धरातल पर लाने के लिए अभी से काम शुरू कर दिया जाए। उन्होंने कहा कि किसानों की कर्ज माफी के संबंध में आवश्यक कार्यवाही शीघ्र शुरू कर उन्हें राहत दिलाएं। उन्होंने कहा कि समर्थन मूल्य पर खरीद, टॉयलेट निर्माण की किस्त सहित प्रदेश में विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों का लम्बित भुगतान शीघ्र सुनिश्चित किया जाए।मुख्यमंत्री ने कलेक्टरों को आमजन से जु़डी समस्याओं के त्वरित निस्तारण की उचित मॉनिटरिंग करने, विभागों के बीच आपसी समन्वय स्थापित करने, रात्रि चौपाल कार्यक्रम को ज्यादा प्रभावी तरीके से क्रियान्वित करने जैसे उपाय कर लोगों को खुशहाल बनाने पर ध्यान देने के निर्देश दिए। उन्होंने कई जिलों द्वारा किए गए नवाचारों को सराहा और अन्य जिलों में उन्हें लागू करने के भी निर्देश दिए। राजे ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान के प्रथम चरण में हुए कार्यों से आ रहे सकारात्मक प्रभावों पर आधारित पुस्तिका का विमोचन भी किया। इससे पहले मुख्य सचिव निहाल चंद गोयल ने कलक्टरों को निर्देश दिए कि फील्ड में समय बिताएं और आमजन की समस्याओं का तुरंत निस्तारण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि हर जिला कलेक्टर ऐसा सिस्टम डवलप करें कि छोटी से छोटी समस्याओं का निस्तारण बिना किसी देरी के हो सके। गोयल ने कहा कि योजनाओं के बारे में ज्यादा से ज्यादा जागरूकता लाने और उनसे सीधा संवाद करने के लिए नवाचार करते रहें। उन्होंने कहा कलेक्टर्स किसी भी समस्या का आने का इंतजार ना करें बल्कि प्रोएक्टिव होकर उनका तुरंत निस्तारण करने की व्यवस्था करें। इस दौरान उन्होंने सभी जिला कलेक्टरों से उनके जिलों में हो रहे नवाचारों और विभिन्न पोर्टल्स के जरिए मिल रही शिकायतों की प्रगति रिपोर्ट लेकर समीक्षा भी की।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News