गांव, गरीब व किसान के कल्याण के लिए है सरकार : राजेन्द्र राठौड़

गांव, गरीब व किसान के कल्याण के लिए है सरकार : राजेन्द्र राठौड़

जयपुर। ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री राजेन्द्र सिंह राठौ़ड ने कहा कि वर्तमान सरकार ने पहली बार ग्रामीण क्षेत्र में निवास करने वाले ८ लाख ७० हजार परिवारों को आवासीय पट्टें दिए है। केन्द्र एवं राज्य सरकार गरीब व किसान के कल्याण व उत्थान के लिए कार्य कर रही है। पंचायती राज मंत्री राठौ़ड ने रविवार को श्रीगंगानगर जिले के करणपुर एवं पदमपुर में आयोजित कार्यक्रम के दौरान यह बात कही। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने से ऐतिहासिक निर्णय एवं योजनाएं बनाई है, जिससे गांव व गरीब तक इसका लाभ पहुंच रहा है। प्रत्येक गरीब मजदूर का श्रमिक योजना में पंजीयन किया गया तथा उसकी पुत्रियों को ५५-५५ हजार रुपए, मुखिया की मृत्यु होने पर ५ लाख रुपए देने का प्रावधान है। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री एवं प्रदेश की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे के अनुसार २०२२ तक कोई भी गरीब पक्के मकान के बिना नही रहें, इसके लिए स्वीकृतियां जारी की जा रही है तथा ब़डे पैमाने पर गांवों में आवास निर्माण के कार्य संचालित किए जा रहे है। प्रदेश में ४.६७ लाख आवासों की स्वीकृतियां जारी कर कार्य प्रारम्भ कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि अकेले करणपुर विधानसभा क्षेत्र में आज ५ करो़ड रुपए से अधिक राशि का लाभ लाभार्थियों को दिया जा रहा है, यह एक बहुत ब़डी इस क्षेत्र के लिए उपलब्धि है। करणपुर क्षेत्र में १५४४ प्रधानमंत्री आवास निर्माण पर २२.८५ करो़ड रुपए तथा १ हजार ६८ श्रम कार्ड के लाभार्थियों को २.२४ करो़ड रुपए की राशि के लाभ वितरित किए जा रहे है, जो यह दर्शाता है कि यह सरकार गरीबों, किसानों व मजदूरों के कल्याण के लिए है। राठौ़ड ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत अब शहरों के साथ-साथ गांवों को भी साफ-सुथरा बनाया जा रहा है। प्रदेश के तीन हजार गांवों को स्मार्ट गांव बनाये जा रहे है। गांवों में सफाई के लिये १५० घरों पर सफाई कार्मिक लगाये जायेंगे। माननीय मुख्यमंत्री ने गांवों में विकास की गंगा बहाकर उन्हें शहरों के बराबर लाने के कार्यक्रम बनाये है। उन्होंने मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान को एक महत्वपूर्ण कार्यक्रम बताया। उन्होंने कहा कि श्रीगंगानगर जिले में कृषि का अधिक महत्व है। पिछले ६८ वर्ष में जो पक्के खाले नही बन पाये उससे चार गुणा ज्यादा पक्के खालों का निर्माण इस जिले में हुआ है। सरकार अब किसान से किसी तरह की हिस्सा राशि नही ले रही। उन्होंने कहा कि किसानों को बहुत ही कम ब्याज पर ५५ हजार करो़ड रूपये की राशि ऋण स्वरूप दी है। उन्होनें कहा कि सरकार का उद्देश्य गांव, गरीब व किसान का जीवन स्तर उपर उठाना है। देश के प्रधानमंत्री माननीय नरेन्द्र मोदी के अनुसार आगामी २०२२ तक किसानों की आय दोगुनी करने तथा कोई भी गरीब पक्के मकान के बिना नही रहेगा, सा कार्यक्रम बनाकर सरकार कार्य कर रही है। खेल के क्षेत्र में सुविधाएं विकसित की जायेगीखेल प्रतिभाओं को आगे ब़ढने का अवसर मिलेगाः- श्री खींवसरवन पर्यावरण एवं खेल मंत्री श्री गजेन्द्र सिंह खींवसर ने कहा कि प्रदेश में सरकार द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ मिला है उसके साक्षी ये भारी जनसमूह है। जो यह बता रहा है कि योजनाओं का लाभ धरातल तक पंहुचा है। श्री खींवसर ने कहा कि सरकार खेल को ब़ढावा देनें के लिये मूलभूत सुविधाएं विकसित कर रही है। उन्होने कहा कि करणपुर में १ करो़ड रूपये की राशि से इंडोर स्टेडियम का निर्माण किया जायेगा, जिसमें मल्टीजिम, कबड्डी, जुडो, टेबल टेनिस, बास्केटबॉल की खेल प्रतियोगिताएं राष्ट्रीय स्तर की करवाई जा सकेगी। हर ग्राम पंचायत को मिले ५ करो़डप्रत्येक गांव व गरीब के कल्याण के लिये चलाई जा रही योजनाओं का मिला लाभश्रमिक पंजीयन मजदूर के लिये बनी वरदानः- श्री टीटीखान राज्यमंत्री श्री सुरेन्द्र पाल सिंह टीटी ने कहा कि सरकार गांव, गरीब व किसान के सर्वांगीण विकास के लिये कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि अब तक जो गरीब अपनी समस्याओं से ग्रस्त था, उसकी किसी ने नही सुनी। हमारी सरकार ने गरीबों व मजदूरों के कल्याण के लिये श्रमिक पंजीयन योजना की शुरूआत की। इस योजना में श्रमिक की १८ वर्ष की दो पुत्रियों को ५५-५५ हजार रूपये तथ उनकी शिक्षा के खर्चे के अलावा आवास के लिये १.५० लाख रूपये, सामान्य मृत्यु पर दो लाख तथा दुर्घटना मृत्यु पर ५ लाख रूपये की राशि देने का प्रावधान है। उन्होंने कहा कि सरकार ने समस्त नागरिकों को हर योजना का लाभ ऑनलाईन उनके खाते में दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि करणपुर विधानसभा क्षेत्र की प्रत्येक ग्राम पंचायत में ५ करो़ड रूपये से अधिक की राशि के कार्य हुए है, जो अपने आप में तिहासिक कार्य है। प्रत्येक गांव मे सीनियर सैकेण्डरी स्कूल, गौरव पथ तथा बिजली पंहुचायी गयी है। करणपुर क्षेत्र में ५ हजार परिवारों को आवासीय पट्टे दिये गये है। वही पर वृद्ध माताओं को धुं से मुक्ति के लिये उज्ज्वला योजना का लाभ दिया गया है। वृद्धा, दिव्यांग तथा ७० वर्ष से अधिक आयु के वृद्धों की पेंशन में ब़ढोतरी की गई है। उन्होंने कहा कि २०२२ तक कोई भी नागरिक एवं गरीब पक्के मकान के बिना नही रहेगा। हर गरीब को पक्के मकान बनाकर दिये जायेंगे। उन्होंने कहा आगामी ६ माह में करणपुर क्षेत्र का कोई भी खाला कच्चा नही रहेगा। उन्होंने कहा कि युवाओं का खेल की ओर रूझान बढे़, इसके लिये खेल सुविधाएं विकसित की जा रही है तथा १०८ गांवों को विभिन्न खेलों की खेल किट युवाओं को वितरित की गई। करणपुर में आयेाजित कार्यक्रम में श्री हरिसिंह कामरा, श्री बलदेव सिंह, श्री प्रहलाद राय टॉक, पूर्व विधायक श्री लालचंद मेघवाल, श्री उम्मेद सिंह राठौ़ड, जनप्रतिनिधि तथा भारी संख्या में नागरिक उपस्थित थे। इसी प्रकार पदमपुर में आयोजित कार्यक्रम में सूरतग़ढ विधायक श्री राजेन्द्र सिंह भादू, पूर्व राज्यमंत्री श्री कुन्दन लाल मिगलानी, श्री हरिसिंह कामरा, पूर्व विधायक श्री लालचंद मेघवाल, श्री समनदीप सिंह, श्री शिव स्वामी, श्री भादरचंद नारंग, श्री उम्मेद सिंह राठौ़ड सहित ग्रामीण जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक तथा भारी संख्या में महिलाएं उपस्थित थी।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

जनरल डिब्बे में कर रहे हैं यात्रा, तो इस योजना से ले सकते हैं कम कीमत पर खाना जनरल डिब्बे में कर रहे हैं यात्रा, तो इस योजना से ले सकते हैं कम कीमत पर खाना
Photo: RailMinIndia FB page
विजयेंद्र बोले- ईश्वरप्पा को भाजपा से निष्कासित किया गया, क्योंकि वे ...
तुष्टीकरण और वोटबैंक की राजनीति कांग्रेस के डीएनए में हैं: मोदी
संदेशखाली में वोटबैंक के लिए ममता दीदी ने गरीब माताओं-बहनों पर अत्याचार होने दिया: शाह
इंडि गठबंधन पर नड्डा का प्रहार- परिवारवादी पार्टियां अपने परिवारों को बचाने में लगी हैं
'सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के पास डिफॉल्टरों के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर जारी करने की शक्ति नहीं'
कांग्रेस के राज में हनुमान चालीसा सुनना भी गुनाह हो जाता है: मोदी