बेंगलूरु: रामेश्‍वरम कैफे धमाका मामले में अब तक कौनसी बातें आईं सामने?

बैग छोड़ गया था एक व्यक्ति

बेंगलूरु: रामेश्‍वरम कैफे धमाका मामले में अब तक कौनसी बातें आईं सामने?

धमाके से लोगों में मची थी अफरा-तफरी

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। बेंगलूरु के व्हाइटफील्ड स्थित मशहूर रामेश्‍वरम कैफे में शुक्रवार को धमाका होने से लोगों में अफरा-तफरी मच गई। पहले संदेह जताया जा रहा था कि यह सिलेंडर धमाका था, लेकिन बाद में कुछ और ही बात निकलकर सामने आई।

मैसूरु में पत्रकारों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री सिद्दरामैया ने कहा कि कैफे के सीसीटीवी फुटेज की जांच की जा रही है। पता चला कि वहां कोई बैग छोड़ गया था। घटना के आरोपियों को सजा दिलाई जाएगी।

धमाका आईईडी के कारण हुआ था। एक व्यक्ति ने कैफे के अंदर डिवाइस से भरा बैग रखा था। आरोपी ने कैफे में खाना खाया और आईईडी वाला बैग छोड़ दिया। बताया गया कि सीसीटीवी से आरोपी की पहचान हो गई है। आरोपी की उम्र करीब 28 से 30 साल है। उसने कैफे में रवा इडली का ऑर्डर दिया था।

सूत्रों के अनुसार, पुलिस ने मुख्यमंत्री को बताया कि बैग में रखी आईईडी के अलावा परिसर में कोई और आईईडी नहीं मिली। आरोपी ने कैश काउंटर से एक टोकन लिया था।

उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार ने कहा कि यह कम तीव्रता का धमाका था। एक युवक आया और उसने एक छोटा बैग रखा, जो एक घंटे बाद फट गया। करीब 10 लोगों को चोटें आई हैं। घटना की जांच के लिए सात-आठ टीमें बनाई गई हैं। हम सभी कोणों से देख रहे हैं। मैं हर बेंगलूरुवासी से कहता हूं कि चिंता न करें।

अचानक छा गया गुबार

सोशल मीडिया में वायरल सीसीटीवी फुटेज में देखा गया कि दोपहर 12.55 बजे अचानक धमाका होने से धुएं का गुबार छा जाता है। इससे घबराकर लोग जान बचाने के लिए भागने लग जाते हैं।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News