तलाक के फैसले पर अड़े तेज प्रताप, चिंतित लालू की सेहत पर हो रहा बुरा असर

तलाक के फैसले पर अड़े तेज प्रताप, चिंतित लालू की सेहत पर हो रहा बुरा असर

lalu and tej pratap

पटना। राजद प्रमुख लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने कहा है कि वे तलाक लेने का इरादा कर चुके हैं और जब तक परिजन उनका समर्थन नहीं करेंगे, वे घर नहीं जाएंगे। दूसरी ओर लालू यादव अपने परिवार से आ रहीं इन खबरों पर बहुत दुखी और चिंतित बताए जा रहे हैं। उनकी सेहत पर भी इसका बुरा असर हुआ है। वे रांची स्थित रिम्स अस्पताल में भर्ती हैं। जब से उन्होंने तेज प्रताप द्वारा ऐश्वर्या से तलाक लेने के फैसले के बारे में सुना है, वे तनावग्रस्त हो गए हैं।

अस्पताल के डॉक्टरों की मानें तो लालू के डिप्रेशन लेवल में इजाफा हुआ है। इससे उनकी नींद बाधित हुई है और वे काफी परेशान हैं। उन्हें रात को ठीक से नींद नहीं आती। लगातार इस स्थिति का सामना करने से उनकी सेहत पर बुरा असर हो रहा है। डॉक्टरों के मुताबिक, लालू को मधुमेह भी है। उन्हें कई बार चक्कर आ चुके हैं। ऐसे में डॉक्टरों ने उन्हें सेहत का ध्यान रखने की सलाह दी है।

वहीं तेज प्रताप ने एक चैनल से बातचीत में कहा कि वे हरिद्वार में हैं। उन्होंने परिवार द्वारा तलाक के फैसले के समर्थन के बाद ही घर आने की बात कही है। उन्होंने अपने छोटे भाई तेजस्वी को जन्मदिन की बधाई दी। उन्होंने तलाक की अर्जी डालने पर कहा कि अब समझौते की कोई संभावना नहीं है। तेज प्रताप ने बताया कि उन्होंने शादी से पहले भी माता-पिता को इस संबंध में कहा था, लेकिन तब उनकी बात नहीं सुनी गई और अब भी कोई उनकी बात नहीं सुन रहा है।

इस बातचीत के दौरान तेज प्रताप अपने ससुराल पक्ष के कई लोगों से खफा दिखे। उन्होंने दोनों भाइयों के बीच मतभेद की खबरों का खंडन किया और कहा कि वे भविष्य में तेजस्वी के साथ खड़े रहेंगे और उनकी पूरी मदद करेंगे। उन्होंने कहा है कि जब तक परिवार में कोई उनका पक्ष नहीं सुनेगा और तलाक के फैसले से सहमत नहीं होगा, वे घर नहीं आएंगे। बता दें कि तेज प्रताप अपने पिता से मिलने रिम्स आए थे। उसके बाद वे घर नहीं गए।

इसी साल 12 मई को राजद विधायक चंद्रिका राय की बेटी ऐश्वर्या राय से उनकी शादी बहुत धूमधाम से हुई थी। ऐश्वर्या के दादा दरोगा राय बिहार के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। तेज प्रताप ने आरोप लगाया है कि उनकी शादी सियासी फायदे के लिए करवाई गई जबकि वे इसके खिलाफ थे। उन्होंने ऐश्वर्या पर आरोप लगाया कि वे अपने पिता को लोकसभा चुनाव का टिकट दिलाने के लिए दबाव डाल रही थीं।

एक रिपोर्ट में कहा गया था कि रिम्स में लालू से मुलाकात के दौरान तेज प्रताप भावुक हो गए थे। लालू ने उन्हें फैसले पर पुनर्विचार करने के लिए कहा था। इसके बाद तेज प्रताप ने कहा कि परिवार में सभी लोग ऐश्वर्या का ही साथ दे रहे हैं। तब से लालू भी काफी चिंतित हैं और उसका असर उनकी सेहत पर हो रहा है।

ये भी पढ़िए:
– अब चेहरा ही नहीं, चाल देखकर भी लोगों की पहचान करेगा चीन, तैयार कर ली तकनीक
– 96 साल की उम्र में साक्षरता परीक्षा में अव्वल आने वाली दादी मां को मिला लैपटॉप
– दो मुल्क, दो फैसले: पाकिस्तान को चीन से मिलेगा 6 अरब डॉलर का कर्ज, बांग्लादेश ने ठुकराया
– बिहार में छठव्रतियों को 6 हजार रु. मिलने की अफवाह, डाकघरों में उमड़ी भीड़ से कर्मचारी परेशान

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

ममता सरकार को बड़ा झटका, एसएलएसटी की चयन प्रक्रिया को उच्च न्यायालय ने अमान्य घोषित किया ममता सरकार को बड़ा झटका, एसएलएसटी की चयन प्रक्रिया को उच्च न्यायालय ने अमान्य घोषित किया
कोलकाता/दक्षिण भारत। कलकत्ता उच्च न्यायालय ने सोमवार को पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा प्रायोजित और सहायता प्राप्त स्कूलों में राज्य स्तरीय...
गाजीपुर लैंडफिल में आग 'आप' के 'भ्रष्टाचार' का उदाहरण: दिल्ली भाजपा अध्यक्ष
केंद्रीय मंत्री शोभा करंदलाजे क्या अपनी सीट आसानी से निकाल लेंगी?
यह उदासीनता क्यों?
हुब्बली में नड्डा की हुंकार- खोखले नारों का सहारा नहीं लेते, मोदी की गारंटी पर है लोगों का विश्वास
हुब्बली: नेहा की हत्या के विरोध में मुस्लिम संगठनों ने किया बंद का आह्वान
कर्नाटक: सोमनायक्कनपट्टी-बेंगलूरु सेक्शन का रियर विंडो निरीक्षण किया