मलकानगिरि (ओडिशा)/भाषा। भाजपा सांसद रूपा गांगुली ने विपक्ष पर लोगों को गुमराह करने की कोशिश करने का आरोप लगाते हुए कहा कि संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) को दुनिया का सबसे महत्वपूर्ण मानवाधिकार कानून माना जाना चाहिए।

गांगुली दो दिवसीय दौरे पर ओडिशा आई थीं। उन्होंने कहा कि सीएए किसी की नागरिकता नहीं छीनेगा। उन्होंने कहा, सीएए का किसी भी तरह भारतीय नागरिकों पर प्रतिकूल प्रभाव नहीं पड़ेगा। विपक्षी दल झूठ फैला रहे हैं और तुच्छ राजनीतिक मकसदों के लिए लोगों को गुमराह कर रहे हैं।

रूपा गांगुली ने पूर्ववर्ती पूर्वी पाकिस्तान से आकर मलकानगिरि और नबरंगपुर जिलों में बसे शरणार्थियों से मुलाकात की और सीएए के समर्थन में भाजपा द्वारा आयोजित एक बैठक को संबोधित किया।

पश्चिम बंगाल से राज्यसभा सदस्य ने कहा, इस मामले को लेकर तमाम हंगामे के बीच, सच्चाई यही रहेगी कि सीएए मानवता का प्रतीक है। इसे दुनिया का सबसे महत्वपूर्ण मानवाधिकार कानून बताया जा सकता है। इसका लक्ष्य प्रताड़ना एवं उत्पीड़न झेलने के बाद यहां आए लोगों को नागरिकता प्रदान करना है।