करुणारत्ने
करुणारत्ने

लीड्स/भाषा। श्रीलंकाई कप्तान दिमुथ करुणारत्ने ने भारत के विश्व क्रिकेट में बढ़ते स्तर के लिए उसके घरेलू ढांचे की प्रशंसा की और साथ ही उम्मीद जताई कि उनका बोर्ड भी बीसीसीआई के नक्शे-कदमों पर चलेगा। वर्ष 1996 की चैम्पियन श्रीलंकाई टीम को शनिवार को यहां भारत से सात विकेट की हार का मुंह देखना पड़ा जिससे वह टूर्नामेंट के नौ मैचों में तीन जीत से छठे स्थान पर रही।

करुणारत्ने का मानना है कि ट्राफी जीतने के लिए भारत सेमीफानइल में पहुंची अन्य टीमों इंग्लैंड, आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड से कहीं बेहतर स्थिति में है। करुणारत्ने ने मैच में हार के बाद कहा, मुझे लगता है कि भारत के पास इस विश्व कप को जीतने का बेहतर मौका है, यह मेरा विचार है। उन्होंने कहा, और मुझे लगता हे कि मुकाबले वाले दिन अगर कोई अन्य टीम भारतीय टीम से बेहतर कर सकती है तो वे निश्चित रूप से जीतेंगे।

करुणारत्ने ने भारत के घरेलू ढांचे की प्रशंसा की जिससे सुनिश्चित होता है कि उन्हें लगातार प्रतिभाएं मिलती रहती हैं। विश्व कप से तुंरत पहले कप्तानी संभालने वाले करुणारत्ने ने कहा, मुझे लगता है कि भारत के पास अच्छा ढांचा है जिससे उनकी राष्ट्रीय टीम को मदद मिलती है। मुझे लगता है कि उनके पास आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) है।

उन्होंने कहा, उनकी घरेलू टीमें काफी अच्छी हैं और उनका सत्र अच्छा होता है। इन चीजों से अच्छे खिलाड़ी सामने आते रहते हैं। हम अपने प्रबंधन से भी इसी की उम्मीद करते हैं। रोहित की विश्व कप में 103 रन की पांचवीं शतकीय पारी की प्रशंसा करते हुए श्रीलंकाई कप्तान ने अपने खिलाड़ियों से सीख लेने की बात कही।

उन्होंने कहा, हर बार उसे (रोहित) अच्छी शुरुआत मिलती है तो वह इस पर काफी रन जुटाता है। हम भी ऐसा ही चाहते हैं। पारी के दौरान वह निडर था और वह जानता था कि वह किस तरह शतक पूरा करेगा। वह इस समय काफी अच्छी बल्लेबाजी कर रहा है।

LEAVE A REPLY