ccs meeting
ccs meeting

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। भारतीय वायु सेना द्वारा पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) में आतंकी कैंपों पर की गई बमबारी के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आवास पर सीसीएस (सुरक्षा मामलों की कैबिनेट समिति) की बैठक हो रही है। इसमें प्रधानमंत्री मोदी, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री अरुण जेटली, एनएसए अजीत डोभाल भी मौजूद हैं।

पीओके में कार्रवाई की खबर फैलते ही पूरे देश में खुशी की लहर है। मंगलवार सुबह करीब 3.30 बजे पीओके में दाखिल होकर भारतीय वायुसेना के मिराज लड़ाकू विमानों ने जैश के ठिकानों को बुरी तरह तबाह कर दिया है। इसमें 200-300 आतंकियों के मारे जाने की खबर आ रही है। जानकारी के अनुसार, 12 मिराज 2000 विमानों ने आतंकी ठिकानों पर 1000 किलो के कई बम बरसाए।

केंद्र सरकार के मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने ट्वीट किया है कि यह मोदी का हिंदुस्तान है, घर में घुसेगा भी और मारेगा भी। पीओके में भारतीय वायुसेना की इस पर राहुल गांधी ने किया ट्वीट, ‘भारतीय वायुसेना के पायलटों को सलाम।’ वहीं, वरिष्ठ कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा है कि बालाकोट में भारतीय वायुसेना की कार्रवाई पर कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है, लेकिन पाकिस्तान की हड़बड़ाहट देखकर लग रहा है कि कुछ बड़ा हुआ है। जब पाकिस्तान चीन और सऊदी से मिली भीख गिनने में व्यस्त था, उस समय भारतीय वायुसेना पीओके से आगे गई और पाकिस्तान की राजधानी के करीब पहुंच गई।

सूत्रों के हवाले से खबर है कि भारतीय वायुसेना ने बालाकोट, चकोठी और मुजफ्फराबाद के आतंकी ठिकानों को पूरी तरह से तबाह कर दिया। जैश का कंट्रोल रूम भी नष्ट हो गया है। इस कार्रवाई के बाद वायुसेना अलर्ट पर है। उधर, कार्रवाई से घबराए पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने इस्लामाबाद में आपात बैठक बुलाई है। पाक मीडिया के दावे के मुताबिक, भारतीय वायुसेना के लड़ाकू विमान खैबर पख्तूनख्वा के बालाकोट तक पहुंचे थे।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY