iran army martyrs
iran army martyrs

तेहरान/दक्षिण भारत। आतंकियों की पनाहगाह बन चुके पाकिस्तान को अब ईरान ने भी सख्त चेतावनी दी है। ईरानी रिवॉल्युशनरी गार्ड्स के प्रमुख मेजर जनरल मोहम्मद अली जाफरी ने कहा है कि पाकिस्तान को अपनी करतूतों की कड़ी कीमत चुकानी होगी। बता दें कि पिछले बुधवार को ईरान में भी सेना के जवानों को आत्मघाती विस्फोट से निशाना बनाया गया। उस घटना में 27 जवानों ने जान गंवाई थी। यह हमला ईरान के इस्फहान शहर में हुआ था। उसके बाद ईरान के घर-घर में लोग शोक में डूब गए और आतंकियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के लिए आवाज बुलंद करने लगे।

पाकिस्तान के आतंकवाद से ईरान भी परेशान रहा है। आत्मघाती हमले के बाद ईरानी सशस्त्र बलों में पाक के लिए गहरा गुस्सा है। ईरान ने इसके लिए सीधे तौर पर पाकिस्तान को उत्तरदायी ठहराकर चेतावनी दी है कि इसके लिए उसे भारी कीमत चुकानी पड़ेगी। इस संबंध में ईरान के उपविदेश मंत्री सैय्यद अब्बास अरगाची ने कहा है कि बस, अब बहुत हुआ। राजधानी तेहरान में भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मुलाकात के बाद उन्होंने कहा कि पानी सिर से ऊपर जा चुका है।

मंत्री अरगाची ने कहा कि बीते कुछ दिनों में ईरान और भारत आतंकवाद के घृणित हमलों के शिकार हुए हैं। इससे दोनों देशों को भारी नुकसान हुआ है। उन्होंने बताया कि भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के साथ बैठक के दौरान हमने इस क्षेत्र में आतंकवाद के खिलाफ सहयोग बढ़ाने का फैसला किया है। गौरतलब है कि मेजर जनरल जाफरी भी पाकिस्तान को कह चुके हैं कि उसकी सेना और सुरक्षा बलों ने ईरानी रिवॉल्युशनरी गार्ड्स के दुश्मनों को पनाह दी है। उन्होंने कहा कि हम अपने शहीदों के खून का बदला लेंगे। हम राष्ट्रपति हसन रूहानी से मांग करेंगे कि वो हमें छूट दें ताकि जवाबी कार्रवाई कर सकें।

LEAVE A REPLY

3 × one =