सांकेतिक चित्र
सांकेतिक चित्र

मेंगलूरु/भाषा। मानसिक रूप से अस्थिर एक युवक उल्लाल के निकट खड़ी एक बस में सवार हो गया और उसे चलाता हुआ करीब 65 किलोमीटर उडुपी पहुंच गया। इस घटना से बस के मालिक के साथ-साथ युवक के घर वाले भी दंग रह गए।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि बस मालिक के दोस्तों और पुलिस ने बस को उडुपी के निकट रोका। इसके बाद पुलिस ने युवक को हिरासत में ले लिया और जांच के लिए उसे उल्लाल ले गए। बस चुराने वाला 20 वर्षीय युवक मोहम्मद निपहाज उल्लाल में एक सर्विस स्टेशन में काम करता था।

दरअसल बस उल्लाल से मेंगलूरु जा रही थी और शनिवार रात को सफाई के लिए चालक ने खड़ी की थी। दिन में जब बस साफ करने के लिए सफाईकर्मी आया तो बस वहां थी ही नहीं। इसके बाद सफाईकर्मी ने चालक को जानकारी दी और चालक ने बस मालिक को फोन किया।

इसी बीच युवक ने अपने पिता को फोन करके बताया था कि वह बस चलाकर एक पवित्र स्थान जा रहा है। युवक के पिता ने तत्काल पुलिस को इसकी जानकारी दी, जिसने बस का पता लगा लिया।