सांकेतिक चित्र
सांकेतिक चित्र

नासिक/भाषा। श्मशान को ऐसी जगह माना जाता है, जहां कोई व्यक्ति अपनी इच्छा से नहीं जाना चाहेगा। लेकिन उत्तरी महाराष्ट्र में नासिक जिले के निफड़ तालुका में चंदोरी गांव के कुछ लोगों ने दो दिन पहले श्मशान में अपने दोस्त का जन्मदिन मनाया। स्थानीय निवासियों ने यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि शनिवार की आधी रात चंदोरी के श्मशान में जश्न मनाना शुरू किया। वे अपने दोस्त सोमनाथ कोटमे का 25वां जन्मदिन मना रहे थे। इस दौरान उन्होंने वहां केक भी काटा।

कोटमे ने इस अप्रत्याशित तरीके से जन्मदिन मनाने पर खुशी जाहिर की। उन्होंने कहा कि इससे समाज में श्मशान को लेकर फैले अंधविश्वास के खिलाफ संदेश जाएगा। इन दोस्तों ने श्मशान में मनाई गई जन्मदिन पार्टी की फोटो सोशल मीडिया पर भी अपलोड कीं।