विधायक महेश्वर यादव
विधायक महेश्वर यादव

पटना/दक्षिण भारत। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। लोकसभा चुनावों में करारी हार के बाद अब पार्टी में बंटवारे को लेकर भी संकट मंडरा रहा है। राजद के विधायक महेश्वर यादव ने दावा किया है कि पार्टी में दरार पड़ गई है और वे नया गुट बनाने जा रहे हैं। पत्रकारों से बातचीत में महेश्वर ने कहा कि राजद के 80 प्रतिशत विधायक लालू यादव के बेटे तेजस्वी का साथ छोड़कर उनके गुट में आ जाएंगे।

महेश्वर के उक्त दावे के बाद राजद में टूट को लेकर कयास तेज हो गए हैं। बता दें कि विधायक महेश्वर घोषणा कर चुके हैं कि वे विधानसभा अध्यक्ष से मांग करेंगे कि नए गुट को मान्यता प्रदान की जाए। उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का समर्थन करने की बात कही है। इसके अलावा विधायक ने तेजस्वी पर आरोप लगाया कि उन्होंने नीतीश विरोधी भाजपा नेताओं से हाथ मिला लिया।

विधायक महेश्वर ने यह आरोप लगाया कि नीतीश का विरोध करने वाले ऐसे नेता और तेजस्वी यादव बिहार में मध्यावधि चुनाव की कोशिशों में लगे हुए हैं। यही नहीं, महेश्वर ने यह दावा भी किया कि पार्टी के ज्यादातर विधायक नीतीश कुमार के समर्थन में हैं। उन्होंने कहा कि राजद के दो तिहाई विधायक उनके साथ हैं और वे सदन में अलग बैठने के लिए विधानसभा अध्यक्ष से अनुमति मांगेंगे।

विधायक महेश्वर ने नीतीश कुमार को समर्थन की बात दोहराते हुए कहा कि मोर्चे के साथ आने वाले सभी विधायकों को आगामी विधानसभा चुनाव के लिए टिकट मिलने की गारंटी है।