fake pakistani pics
fake pakistani pics

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। बालाकोट में भारतीय वायुसेना की जोरदार कार्रवाई से पाकिस्तान सहमा हुआ है। जहां पाकिस्तानी संसद में इमरान खान पर कई सवाल उठ रहे हैं, वहीं अपनी अवाम को झूठी दिलासा देने के लिए पाकिस्तान की फौज भी गलत तथ्यों का सहारा ले रही है। पाक का यह झूठ बेनकाब हुआ तो उसकी खूब किरकिरी हुई।

बता दें कि बुधवार को जम्मू-कश्मीर के बडगाम में एमआई-17वी-5 हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इसकी वजह तकनीकी खराबी थी। दुर्घटना में दोनों पायलटों के अलावा दो क्रू मेंबर्स की मौत हो गई। यह जानकारी सामने आने के बाद पाकिस्तान ने शातिराना ढंग से इसका इस्तेमाल किया। पाकिस्तानी फौज के इशारे पर पड़ोसी मुल्क के मीडिया में यह खबरें चलने लगीं कि उसकी ‘बहादुरी’ की बदौलत भारतीय वायुसेना का विमान गिर गया। यही नहीं, पाकिस्तान जिन तस्वीरों का उपयोग कर रहा था, उनकी जांच की जहमत भी नहीं उठाई।

दरअसल इन्हीं तस्वीरों ने पाक की पोल खोल दी, क्योंकि ये साल 2016 की थीं, जिनका इस घटना से कोई संबंध ही नहीं था। जोधपुर में तीन साल पहले क्रैश हुए विमान की तस्वीरें पेश कर पाकिस्तानी फौज झूठ का ढिंढोरा पीटती रही और उसकी अवाम झूठ पर यकीन कर उन्हें सोशल मीडिया में शेयर कर संतोष करती रही।

उल्लेखनीय है कि बुधवार को पाकिस्तानी वायुसेना के तीन लड़ाकू विमान जम्मू-कश्मीर के नौशेरा सेक्टर में भारतीय वायु क्षेत्र में देखे गए थे। इसका भारतीय वायुसेना ने तुरंत जवाब देते हुए उन्हें वहां से खदेड़ा। साथ ही पाक का एक एफ-16 लड़ाकू विमान मार गिराया। पुलिस ने जानकारी दी कि ये विमान राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में देखे गए थे। पड़ोसी मुल्क की नापाक हरकत का जवाब देने के लिए भारत की वायु रक्षा प्रणालियां अलर्ट पर हैं।

LEAVE A REPLY