सांकेतिक चित्र
सांकेतिक चित्र

नई दिल्ली/भाषा। एक महिला यात्री ने दावा किया है कि बेंगलूरु हवाईअड्डे पर मां के लिए व्हीलचेयर मांगने पर इंडिगो के एक पायलट ने उसे जेल भेजने की धमकी दी। यात्री के ट्वीट पर संज्ञान लेते हुए केंद्रीय नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि एयरलाइंस ने पायलट को ड्यूटी से हटा दिया है।

सुप्रिया उन्नी नायर ने सोमवार रात बेंगलूरु हवाईअड्डे पर उतरने के बाद अपनी 75 वर्षीया मां के लिए व्हीलचेयर की मांग की। उन्होंने अपने कई ट्वीट में आरोप लगाया कि पायलट ने उनसे दुर्व्यवहार किया तथा जेल भेजने की धमकी दी।

पुरी ने एक ट्वीट में कहा, मैंने जैसे ही सुप्रिया उन्नी नायर का पायलट के व्यवहार से संबंधित ट्वीट देखा तो अपने कार्यालय से इंडिगो से संपर्क करने को कहा। एयरलाइंस ने नागर विमानन मंत्रालय को बताया कि पूरी जांच होने तक पायलट को ड्यूटी से हटा दिया गया है। इस मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए इंडिगो ने कहा कि मामले की आंतरिक जांच चल रही है और जरूरी कार्रवाई की जाएगी।

घटना के बारे में नायर ने ट्विटर पर लिखा है, चेन्नई-बेंगलूरु उड़ान जब सोमवार रात सवा नौ बजे बेंगलूरु हवाईअड्डे पर उतरा तो उन्होंने चालक दल के सदस्यों से अपनी मां के लिए व्हीलचेयर मांगी। नायर ने टिकट बुक कराने के दौरान ही व्हीलचेयर सेवा के लिए अनुरोध किया था।

नायर का कहना है कि चालक दल के सदस्यों ने कहा कि उनके पास व्हीलचेयर नहीं है। पेशे से स्वतंत्र पत्रकार नायर ने जब उन्हें टिकट में व्हीलचेयर सेवा के अनुरोध को दिखाया तो, ‘जयकृष्ण’ नामक पायलट ने उन पर और उनकी मां पर चिल्लाना शुरू कर दिया।

नायर ने दावा किया कि जब बेंगलूरु हवाईअड्डे पर उनकी मां को ले जाने के लिए व्हीलचेयर लाई गई तो पायलट ‘जयकृष्ण’ ने 75 वर्षीया महिला को विमान से ले जाने से रोका। उन्होंने आरोप लगाया कि पायलट ने उन्हें हिरासत में भेजने और रात जेल में गुजरवाने की धमकी दी।

नायर के अनुसार, पायलट ने कहा, मैं अपने सीईओ से कहकर सुनिश्चित कराऊंगा कि तुम एक रात जेल में गुजारो, हम तुम्हें कुछ तमीज सिखाएंगे। जब नायर ने कहा कि पायलट धमकी नहीं दे सकते हैं, जयकृष्ण ने कहा, हां मैं आपको धमकी दे रहा हूं। मैं कैप्टन हूं। आप मुझे छू भी नहीं पाएंगी।

नायर ने दावा किया है कि पायलट ने कहा कि तुमने 2,000 रुपए की छोटी रकम दी है, विमान की मालकिन नहीं हो।पायलट ने घटना के संबंध में सोशल मीडिया पर लिखने पर गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी। जब नायर और उनकी मां बेंगलूरु हवाईअड्डे के लाउंज से निकल रही थीं, उस वक्त भी पायलट ने कहा कि दोनों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज होगी।

नायर ने कहा कि जब तक वे लोग घर पहुंचे, उनकी मां डर से कांप रही थीं। उन्हें लग रहा था कि पायलट ने जो धमकियां दी हैं, वे सच हैं। इस मामले से जुड़े सूत्रों का कहना है कि पायलट का नाम ‘जयकृष्ण’ है और मामले की जांच चल रही है।

जयकृष्ण द्वारा सोमवार रात किए गए कथित दुर्व्यवहार के बारे में सवाल करने पर इंडिगो ने कहा, हमें कल रात चेन्नई से 6ई806 विमान से बेंगलूरु आ रही यात्री की शिकायत की जानकारी है। मामले की आंतरिक जांच की जा रही है और जरूरी कर्रवाई की जाएगी। इंडिगो का कहना है कि वह अपने ग्राहकों को अच्छी सेवा मुहैया कराने के लिए प्रतिबद्ध है।