उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

लखनऊ/दक्षिण भारत। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने अवैध बूचड़खानों के बाद अब सड़क किनारे चलने वाली मांस की दुकानों पर भी सख्ती दिखाई है। राज्य सरकार ने आदेश दिया है कि सड़क किनारे चल रहीं ऐसी दुकानों को बंद ​किया जाए। चूंकि इनसे संक्रमण फैलता है और कई बीमारियों का खतरा रहता है।

यह भी कहा गया है कि ​यदि ऐसी दुकानें नहीं हटाई गईं तो उस जिले के डीएम और एसपी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देश में अवैध बूचड़खानों पर रोक है। इसके बावजूद कई जिलों में ये चल रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि अवैध बूचड़खानों से आशय सिर्फ बड़े स्लॉटर हाउस से ही नहीं है। इस प्रकार की जो दुकानें सड़क किनारे चल रही हैं, वे भी इनमें शामिल हैं। उन्होंने कहा कि इन अवैध दुकानों पर भी प्रतिबंध लगाया जाए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इस प्रकार की दुकानों से संक्रमण और बीमारियों का प्रसार होता है। उन्होंने स्पष्ट किया कि यदि सड़क किनारे खुलेआम कहीं मुर्गा और बकरा काटने की दुकानें दिखाई दीं तो उस जिले के डीएम व एसपी की जिम्मेदारी तय कर उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।

उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश में योगी सरकार आने के बाद ऐसे बूचड़खानों के खिलाफ बड़े स्तर पर कार्रवाई शुरू की गई थी जिनके पास इस काम के लिए लाइसेंस नहीं थे। इसके अलावा खुले में चलने वाले बूचड़खानों के खिलाफ कार्रवाई हुई। रिटेल दुकानदारों को भी निर्देश दिए गए थे कि वे अवैध बूचड़खानों से खरीदारी न करें। इन दुकानों को पर्दे या चटाई आदि से ढकने के निर्देश दिए गए ताकि संक्रमण का खतरा न रहे और आम लोग वहां से आवागमन करें तो असहज न हों।