कर्नाटक सरकार ने 3,607.19 करोड़ रु. के 62 औद्योगिक निवेश प्रस्तावों को मंजूरी दी

उद्योग मंत्री एमबी पाटिल की अध्यक्षता वाली समिति ने मंजूरी दी

कर्नाटक सरकार ने 3,607.19 करोड़ रु. के 62 औद्योगिक निवेश प्रस्तावों को मंजूरी दी

रोज़गार के हज़ारों अवसरों का होगा सृजन

बेंगलूरु/दक्षिण भारत। राज्य स्तरीय एकल खिड़की मंजूरी समिति (एसएलएसडब्ल्यूसीसी) ने मंगलवार को कर्नाटक में 10,755 रोजगार सृजन की क्षमता वाले 3,607.19 करोड़ रुपए के 62 औद्योगिक निवेश प्रस्तावों को मंजूरी दी।

उद्योग मंत्री एमबी पाटिल की अध्यक्षता वाली समिति ने 50 करोड़ रुपए से अधिक के निवेश वाली आठ परियोजनाओं को मंजूरी दी, जिसमें कुल 2,088.44 करोड़ रुपए का निवेश शामिल है। इसमें 6,360 नौकरियां पैदा करने की क्षमता है।

कुछ शीर्ष निवेशकों में टेक्सकॉन स्टील्स, हुंड्री शुगर्स और इथेनॉल प्राइवेट लिमिटेड, ब्रेन लाइफ साइंसेज, अल्पाइन इथेनॉल, विरुपाक्ष लेबोरेटरीज और क्वालकॉम इंडिया शामिल हैं।

कुल 62 प्रस्तावों में से, लगभग 51 निवेश परियोजनाएं 15 करोड़ रुपए से 50 करोड़ रुपए के बीच हैं, जिनकी कुल कीमत 941.40 करोड़ रुपए है, जो कर्नाटक के भीतर 4,395 रोजगार सृजन की क्षमता का वादा करती हैं।

समिति द्वारा 577.35 करोड़ रुपए के अतिरिक्त निवेश वाली तीन परियोजनाओं को भी मंजूरी दी गई।

बैठक में स्वीकृत प्रमुख निवेश/परियोजना प्रस्ताव:

टेक्सकॉन स्टील्स लिमिटेड
स्थान: रायचूर जिला
निवेश: 480 करोड़ रुपए
रोज़गार: 200

हुंड्री शुगर्स एंड इथेनॉल प्राइवेट लिमिटेड
स्थान: धारवाड़ जिला
निवेश: 476.54 करोड़ रुपए
रोज़गार: 300

ब्रेन लाइफ साइंसेज प्राइवेट लिमिटेड
स्थान: बेंगलूरु शहरी
निवेश: 230.56 करोड़ रुपए
रोज़गार: 1,750

अल्पाइन इथेनॉल प्राइवेट लिमिटेड
स्थान: गडग जिला
निवेश: 229.19 करोड़ रुपए
रोज़गार: 107

विरुपाक्ष लेबोरेटरीज प्राइवेट लिमिटेड
स्थान: यादगीर जिला
निवेश: 212.55 करोड़ रुपए
रोज़गार: 790

क्वालकॉम इंडिया प्राइवेट लिमिटेड
स्थान: व्हाइटफील्ड, बेंगलूरु
निवेश: 175 करोड़ रुपए
रोज़गार: 1,553

एलआरबी वुड इंडस्ट्री (इंडिया)
स्थान: चामराजनगर जिला
निवेश: 102.50 करोड़ रुपए
रोज़गार: 160

माथा इंडस्ट्रीज
स्थान: बेंगलूरु शहरी जिला
निवेश: 102.1 करोड़ रुपए
रोज़गार: 1,500

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा विपक्ष पर मोदी का प्रहार- इस बार तो इन्हें जमानत बचाने के लिए ही बहुत संघर्ष करना पड़ेगा
प्रधानमंत्री ने कहा कि छह दशक के परिवारवाद, भ्रष्टाचार और तुष्टीकरण ने उप्र को विकास में पीछे रखा
प्रधानमंत्री मोदी के कुशल नेतृत्व ने भारत को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया: नड्डा
अगले पांच वर्षों में देश आत्मविश्वास से विकास को नई रफ्तार देगा, यह मोदी की गारंटी: प्रधानमंत्री
मुख्य चुनाव आयुक्त ने तमिलनाडु में लोकसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा शुरू की
तेलंगाना: बीआरएस विधायक नंदिता की सड़क दुर्घटना में मौत; मुख्यमंत्री, केसीआर ने जताया शोक
अमेरिका की इस निजी कंपनी ने चंद्रमा पर पहला वाणिज्यिक अंतरिक्ष यान उतारकर इतिहास रचा
पश्चिम बंगाल: भाजपा प्रतिनिधिमंडल संदेशखाली का दौरा करेगा