प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जनसभा को संबोधित करते हुए।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जनसभा को संबोधित करते हुए।

संबलपुर/भाषा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कहा कि उनकी सरकार ने व्यवस्था के तंत्र से बिचौलियों को निकाल बाहर करने के लिए कदम उठाए हैं ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि केंद्र से मिलने वाली पूरी राशि गरीबों तक पहुंच सके।

मोदी ने यहां पश्चिमी ओडिशा में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, संप्रग के कार्यकाल में गरीबों तक एक रुपए में से केवल 15 पैसे पहुंचते थे। शेष राशि अनैतिक तत्व हड़प लेते थे। प्रधानमंत्री मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि उसके शासन में कई विवाद एवं घोटाले हुए।

उन्होंने कहा, लोगों ने अतीत में चीनी घोटाले, राशन घोटाले और यूरिया कांड के रूप में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार के आरोपों के बीच असहाय एवं भ्रष्ट सरकार देखी है। प्रधानमंत्री ने कहा, इस चौकीदार ने यह सुनिश्चित करने के लिए ठोस कदम उठाए कि केंद्र से आने वाला धन लोगों तक पूरा पहुंचे।

मोदी ने खनन एवं चिटफंड घोटालों को लेकर बीजद सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि नवीन पटनायक नीत सरकार को केवल निजी हितों की चिंता है। उन्होंने दावा किया, वे (बीजद) चिटफंड एवं खनन घोटालों में शामिल लोगों को बचाने में लगे हैं, ऐसे में वे आम लोगों के बारे में कैसे सोच पाएंगे। मोदी सरकार ने दशकों पुराना खनन कानून बदला और सुनिश्चित किया कि निकाले गए संसाधनों से मिले धन का एक हिस्सा स्थानीय ढांचागत विकास में लगाया जाए।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस और उसके ‘महामिलावटी’ मित्र इस ‘चौकीदार’ को बाहर करना चाहते हैं क्योंकि भाजपा ने भ्रष्टाचार के खिलाफ कार्रवाई की। मोदी ने कहा, आजादी से बाद से देश भ्रष्टाचार की मार झेल रहा था। भाजपा सरकार ने इन भ्रष्ट तरीकों पर लगाम कसी।

मोदी ने देश के लिए अपनी योजनाएं साझा करते हुए कहा कि यदि भाजपा सरकार फिर से सत्ता में आती है तो वह अलग मत्स्य एवं ‘जल शक्ति’ मंत्रालय बनाएगी। उन्होंने कहा, जल शक्ति मंत्रालय यह सुनिश्चित करके देश में जल संकट समाप्त करेगा कि नदियों और समुद्रों का जल गरीबों एवं जरूरतमंदों तक पहुंचे। हम मछुआरों के कल्याण के लिए भी योजनाएं लाएंगे। संबलपुर लोकसभा सीट के लिए मतदान तीसरे चरण में 23 अप्रैल को होगा। भाजपा ने इस सीट पर नितेश गंगा देब को उम्मीदवार बनाया है।

LEAVE A REPLY