कांग्रेस की चली तो कहेगी कि भारत में जीने का पहला हक भी उसके वोटबैंक का है: मोदी

प्रधानमंत्री ने मध्य प्रदेश के धार में भाजपा की चुनावी जनसभा को संबोधित किया

कांग्रेस की चली तो कहेगी कि भारत में जीने का पहला हक भी उसके वोटबैंक का है: मोदी

उन्होंने कहा कि अब 400 सीटें इसलिए मांग रहा हूं, ताकि कांग्रेस और इंडि गठबंधन की हर साजिश को रोक सकूं

धार/दक्षिण भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को मध्य प्रदेश के धार में भाजपा की चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि आज सुबह मैं अपना कर्तव्य निभाने गया था और मतदान करके आपके पास आया हूं। 

उन्होंने कहा कि मेरा हमेशा से मत रहा है कि यह लोकतंत्र का उत्सव है और हर नागरिक को इसे उत्सव के रूप में मनाना चाहिए। आज मैं धार में देख रहा हूं, यहां की माताएं-बहनें जिस तरह से परंपरागत वेशभूषा में आई हैं, जैसे अपने परिवार में कोई अवसर हो। यह लोकतंत्र का मिजाज है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि एक प्रकार से चुनाव, संस्कार की प्रक्रिया भी है, लोकतंत्र के प्रति समर्पण को और अधिक प्रभावी बनाने का उत्तम अवसर है। धार के मेरे भाई-बहनों ने आज जो यह उत्सव का माहौल बना दिया है, मैं आपको बहुत-बहुत बधाई देता हूं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज तीसरे चरण का मतदान चल रहा है। पहले चरण में विपक्ष पस्त पड़ गया था, दूसरे चरण में विपक्ष ध्वस्त हो गया था और आज तीसरे चरण में जो कुछ बाकी रह गया है, वो भी अस्त हो जाएगा, क्योंकि पूरे देश ने ठान लिया है- फिर एक बार मोदी सरकार।

प्रधानमंत्री ने कहा कि इन परिवारवादियों ने पहले देश का इतिहास तोड़ा-मरोड़ा, आजादी के महान सपूतों को भुलवा दिया। इन परिवारवादियों ने अपना महिमामंडन करने के लिए झूठा इतिहास लिखा और अब ये संविधान को लेकर भी झूठ गढ़ने लगे हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस, बाबा साहेब से नफरत ​करती है। इसी नफरत में अब कांग्रेस ने एक और चाल चली है। यह चाहती है कि संविधान बनाने का श्रेय बाबा साहेब को न मिले। कांग्रेस ने कहना शुरू कर दिया है कि संविधान बनाने में बाबा साहेब का योगदान तो कम था, नेहरूजी ने सबसे बड़ी भूमिका निभाई थी।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के लोग एक नई अफवाह उड़ा रहे हैं कि मोदी को 400 सीटें मिल गईं तो वह संविधान बदल देगा। ऐसा लगता है, जैसे कांग्रेस वालों की बुद्धि पर वोटबैंक का ताला पड़ गया है। अरे! इनको पता होना चाहिए कि साल 2014 से 2019 और 2019 से साल 2024 मोदी के पास राजग और राजग+ के रूप में 400 सीटों का समर्थन तो था ही।

उन्होंने कहा कि मोदी ने 400 सीटों का इस्तेमाल अनुच्छेद 370 को हटाने के लिए, एससी/एसटी के आरक्षण को 10 साल आगे बढ़ाने के लिए, एक आदिवासी बेटी को पहली बार देश की राष्ट्रपति बनाने के लिए और महिला आरक्षण के लिए किया है।

उन्होंने कहा कि अब मोदी 400 सीटें इसलिए मांग रहा है ताकि मैं कांग्रेस और इंडि गठबंधन की हर साजिश को रोक सकूं, कांग्रेस कश्मीर में धारा 370 फिर से लागू न कर दे, अयोध्या के राम मंदिर पर बाबरी, ताला न लगा दे, कांग्रेस देश की खाली जमीन, खाली द्वीप दूसरे देशों को न सौंप दे, एससी/एसटी/ओबीसी को मिले ​आरक्षण पर कांग्रेस वोटबैंक के लिए डाका न डाले और कांग्रेस अपने वोटबैंक की सभी जातियों को रातोंरात ओबीसी न घोषित कर दे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस तुष्टीकरण के दलदल में ऐसा धंस चुकी है कि उसे और कुछ नजर नहीं आ रहा। कांग्रेस की चली तो वह कहेगी कि भारत में जीने का पहला हक भी उसके वोटबैंक का है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि जब तक मोदी जिंदा है, नकली सेक्युलरिज्म के नाम पर भारत की पहचान मिटाने की कोई भी कोशिश सफल नहीं होने देगा। यह हजारों वर्ष पुराने भारत को, उसकी इस संतान की गारंटी है।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List