secrets of beauty
secrets of beauty

बेंगलूरु। मजे-मजे का पौष्टिक खाना, थोड़ा सा व्यायाम और उम्मीदों से भरी सोच सदा सेहतमंद और खूबसूरत रहने के लिए ये तीन कमाल सूत्र हैं, जिन्हें अपनाने का मतलब है, जिंदगी को हंसते-हंसाते गले लगाना!

सूत्र 1: क्या खाएं और क्या नहीं?
* शरीर को स्वस्थ रखने के लिए फलों से बेहतर कुछ नहीं, इसलिए नियम बना लें कि रोजाना दो-तीन फल खाने ही खाने हैं।
* खाने के संग सलाद नियमित लें। कच्चे सलाद के साथ अंकुरित अनाज का प्रयोग सेहत भरा तो है ही, स्वाद में भी चार चांद लगाता है।
* भूख से कुछ कम ही खाने की कोशिश करें।
* रोज 2-3 लीटर पानी पीने की आदत बनाए रखें।
* प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट्स से भरा भोजन अच्छा रहता है।
* ब्रेकिंग टाइम में सीमित मात्रा में सूखे मेवे लिए जा सकते हैं। ज्यूस भी इस दौरान पिया जा सकता है।
* खाना चबाकर, धीरे-धीरे खाएं। इससे खाना अच्छी तरह से पचता है।
* भोजन का निश्चित समय तय करें।
* बासी और पैक्ड फूड न खाएं।
* दही-छाछ ज्यादा खट्टा न खाएं।
* मदिरापान से दूर रहें। तले भोजन से बचें।
* मैदा व मैदे से बनी चीजें, व्हाइट शुगर, व्हाइट राइस आदि जैसे रिफाइंड भोजन से दूर रहें। इनकी जगह बाजरा, ज्वार, रागी, ब्राउन राइस आदि ले।
* चाय, कॉफी या कोई और पेय पदार्थ लंच के बाद न लें। इससे आपकी नींद और इम्यून सिस्टम प्रभावित होते हैं।
* बेहतर होगा कि आप क्या, कितना, कब और कैसे खाते हैं, इसका एक चार्ट बना लें।

सूत्र 2: व्यायाम लाजवाब
* सुबह सवेरे रोजाना मॉनिंग-वॉक पर जाने का नियम बनाएं।
* व्यायाम करने से शरीर की शेप सही रहती है और तनाव भी कम रहता है।
* व्यायाम के समय आप खुद का पूरा ख्याल रखते हैं। यह तनाव कम करने में मददगार साबित होता है।
* सप्ताह के पांच दिनों में 45-60 मिनट व्यायाम करने की कोशिश करें।
* 2-3 बार हफ्ते में वेट-ट्रेनिंग करने से आपकी मांसपेशियां सही आकार में रहती हैं।
* हफ्ते में तीन बार कार्डियोवेसक्यूलर एक्सरसाइज करें जैसे वॉकिंग, स्वीमिंग या साइकलिंग।
* हर दिन 15-20 मिनट मैडिटेशन और ब्रीदिंग एक्सरसाइज जरूर करें। रोज की भाग-दौड़ से हुई थकान दूर करने में यह फायदेमंद होती है।
* पॉश्चर सही करने के लिए वेट-ट्रेनिंग बेहतर होती है। आजकल देखा गया है कि ज्यादातर पॉश्चर सही नहीं होते हैं। किसी भी तरह का ड्रैस पहनने पर आपके शरीर की बनावट तो अच्छी दिखाई देनी चाहिए।
* जितना हो सके सीढ़ियों का इस्तेमाल करें, बजाय लिफ्ट के।
* अपनी क्षमता अनुसार ही व्यायाम करें।
* व्यायाम के बाद यदि आप चुस्ती महसूस करती हैं तो आप सही दिशा में जा रही हैं और यदि थकान लगती है तो आपके एक्सरसाइज प्लान में कहीं गड़बड़ है।
* व्यायाम के बाद शवासन जरूर करें।
* रात जल्दी सोएं और सुबह जल्दी उठें। ऐसा करने से शरीर को अच्छा आराम मिलता है। इम्यून फंक्शन और ग्रोथ हॉर्मोन्स रात दस बजे से सुबह 6 बजे तक सोते समय अपना काम अच्छी तरह से करते हैं।
* हफ्ते में 2-3 दिन वे काम करें जिनसे आपको खुशी महसूस होती है- जैसे किताब पढ़ना, फिल्म देखना, गाना, नाचना, खेलना आदि।
* नाश्ते से पहले 15-20 मिनट खुद को आराम दें। आप योगा या टाइची कर सकती हैं। इससे आपको पूरे दिन शांति और सुकून मिलेगा।

सूत्र 3: आशा ही जीवन की भाषा
* हमेशा पॉजिटिव सोच रखें।
* हंसमुख रहें और ईर्ष्या भाव को अपने से दूर रखें।
* सुख के संग दुख भी जीवन में अनिवार्यतः आते हैं, इस सत्य को स्वीकार कर उम्मीद का दामन कभी न छोड़ें।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY