पीएमएवाई (यू) के तहत घर निर्माण में करीब 3.65 करोड़ नौकरियों का होगा सृजन

पीएमएवाई (यू) के तहत घर निर्माण में करीब 3.65 करोड़ नौकरियों का होगा सृजन

पीएमएवाई (यू) के तहत घर निर्माण में करीब 3.65 करोड़ नौकरियों का होगा सृजन

भारतीय मुद्रा

नई दिल्ली/भाषा। केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने मंगलवार को कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत देश में घरों के निर्माण में करीब 3.65 करोड़ नौकरियों का सृजन होगा।

भारतीय उद्योग महासंघ की तरफ से आयोजित वेबिनार में पुरी ने कहा कि योजना के तहत अभी तक 1.65 करोड़ नौकरियों का सृजन हो चुका है।

केंद्रीय आवास एवं शहरी मामलों के मंत्री ने कहा कि मंत्रालय ने 1.07 करोड़ घरों के निर्माण को मंजूरी दी है, जबकि मांग 1.12 करोड़ घरों की है और इनमें से 67 लाख घरों का निर्माण हो रहा है और 35 लाख घरों की आपूर्ति की जा चुकी है।

वेबिनार ‘आत्मनिर्भर भारत: फोस्टरिंग स्टील यूजेज इन हाउसिंग एंड कंस्ट्रक्शन एंड एविएशन सेक्टर’ के दौरान पुरी ने कहा कि योजना के तहत मंजूर घरों के निर्माण में 158 लाख मीट्रिक टन स्टील और 692 लाख मीट्रिक टन सीमेंट खर्च होगा।

उन्होंने कहा, ‘सभी मंजूर घरों के निर्माण में करीब 3.65 करोड़ नौकरियों का सृजन होगा जिनमें से पीएमएवाई (यू) के तहत शुरू हुए घरों के निर्माण में करीब 1.65 लाख नौकरियों का सृजन हुआ है।’

उन्होंने कहा कि 2030 तक देश की आबादी का 40 फीसदी या 60 करोड़ लोगों के शहरी क्षेत्रों में निवास करने का अनुमान है।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

कांग्रेस को बड़ा झटका, इस सीट से उम्मीदवार का नामांकन पत्र हुआ खारिज कांग्रेस को बड़ा झटका, इस सीट से उम्मीदवार का नामांकन पत्र हुआ खारिज
Photo: @INCIndia X account
मोदी के नेतृत्व में अब वोटबैंक की नहीं, बल्कि रिपोर्ट कार्ड की राजनीति है: नड्डा
कभी विदेशों को जीतने के लिए आक्रमण नहीं किया, खुद में सुधार करके कमियों पर विजय पाई: मोदी
हुब्बली: नेहा की हत्या के आरोपी फैयाज के पिता ने कहा- ऐसी सजा मिलनी चाहिए, ताकि ...
पाकिस्तान में आतंकवादियों ने फ्रंटियर कोर के सैनिक और 2 सरकारी अधिकारियों की हत्या की
उच्च न्यायालय ने बीएच सीरीज वाहन पंजीकरण पर नई शर्तें लगाने वाले परिपत्र को रद्द किया
राहुल ने फिर उठाया 'जाति और आबादी' का मुद्दा, कहा- सरकार नहीं चाहती 'भागीदारी' बताना