गुलाब के फूल को भला कौन नहीं जानता हैं। फूलों का राजा माना जाने वाला गुलाब एक जाना पहचाना फूल है। यह फूल होने के साथ-साथ एक ज़डी बूटी भी है। गुलाब का हमारे जीवन में अपना ही महत्व है। सौंदर्य अपील और सुखदायक खुशबू के अलावा गुलाब कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान करता हैं। ृय्ैंक्वह्र ·र्ैंर्‍ ख्रष्ठक्वद्नय्ध्गुलाब जल थकी हुई आंखों को तुरंत राहत प्रदान करने में बहुत कारगर होता है। आंखों में गुलाब जल के इस्तेमाल से आंखों में नई चमक आती है, और वह स्वस्थ लगती हैं। अगर आप कंप्यूटर के सामने बहुत ज्यादा समय बिताते हैं तो गुलाब जल आपका दोस्त साबित हो सकता है। द्धय्ध्ह्र ·र्ैंर्‍ ख्रष्ठक्वद्नय्ध्गुलाब जल का एक और आश्चर्यजनक स्वास्थ्य लाभ है इसमें बालों की देखभाल के प्रभावी गुण होते है। बालों की ज़डों में ब्लड के सर्कुलेशन में सुधार करता है जिससे बालों के स्वस्थ विकास में मदद मिलती है। इसके अलावा यह बालों को मजबूत और लचीला बनाने के लिए एक प्रभावी और प्राकृतिक कंडीशनर भी है। ह्वप्घ्य् ·र्ैंर्‍ ख्रष्ठक्वद्नय्ध्त्वचा के लिए फायदेमंद विस्तृत श्रृंखला उपलब्ध कराने के कारण गुलाब जल त्वचा की देखभाल के लिए बहुत लोकप्रिय है। गुलाब जल के इस्तेमाल का सबसे ब़डा फायदा यह है कि यह एक सर्वश्रेष्ठ टोनर भी है। गुलाब जल में प्राकृतिक ए्ट्रिरंजेंट होने के यह एक सर्वश्रेष्ठ टोनर भी है। रोज रात को इसे चेहरे पर लगाने से त्वचा टाइट होती। यह त्वचा के पीएच संतुलन को बनाएं रखता है, मुंहासों को दूर करने में मदद करता है और बैक्टीरिया के संक्रमण से त्वचा की रक्षा करता है। त्रष्ठध् द्नर्‍ र्ड्डैंय्द्भख्रष्ठद्बैंख्रगुलाब आपके चेहरे पर एक प्यारी से मुस्कान ला सकता है, लेकिन इसका तेल भी कम नहीं है। इसका तेल आत्मविश्वास और मानसिक शक्ति ब़ढा सकता हैं। गुलाब का तेल अवसाद और चिंता से ल़डने में मदद करता हैं। यह अवसाद को कम करने के लिए एक कारगर उपाय के रूप में इस्तेमाल किया जाता है क्योंकि यह सकारात्मक विचारों और भावनाओं को आह्वान करता है। ब्द्धश्चध् घ्य्द्भगुलाब जल का इस्तेमाल एक हर्बल चाय के रूप में किया जाता है। यह पेट के रोगों और मूत्राशय में होने वाले संक्रमण को दूर करने के काम आती है। हर्बल गुलाब जल चाय एक शांत प्रभाव प्रदान करती है। इस सुखदायक चाय को घूंट आप कभी भी भर सकते हैं यह आपको आराम महसूस कराने में मदद करेगी। ॅैंट्टर्‍फ्ष्ठ्य्रट्ट·र्ैंघावों के इलाज के लिए गुलाब का तेल बहुत अच्छा उपाय है। गुलाब के तेल में मौजूद एंटीसेप्टिक गुण घावों को भरता है और इसकी खुशबू से आपको रिलैक्स महसूस होता है। घाव पर गुलाब के तेल के इस्तेमाल से सेप्टिक बनने और संक्रमण के विकास से बचाने में मदद मिलती है।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY