अश्विन और जडेजा को फिर विश्राम

अश्विन और जडेजा को फिर विश्राम

नई दिल्ली। स्टार ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन और लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पांच मैचों की वनडे सीरीज के पहले तीन मैचों में भी विश्राम देते हुए रविवार को घोषित १६ सदस्यीय भारतीय टीम में शामिल नहीं किया गया। अश्विन और जडेजा को श्रीलंका के खिलाफ हाल में समाप्त हुई पांच मैचों की वनडे सीरीज और एकमात्र ट्वंटी-२० मैच में भी विश्राम दिया गया था। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की सीनियर चयन समिति ने इन दोनों स्पिनरों का विश्राम बरकरार रखा है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एकदिवसीय सीरीज १७ सितम्बर को चेन्नई में पहले वनडे से शुरू होनी है। भारत ने श्रीलंका को वनडे सीरीज में ५-० से धोने के बाद एकमात्र ट्वंटी-२० भी जीता था। भारत ने श्रीलंका में तीन टेस्ट मैचों की सीरीज भी ३-० से जीती थी। चयन समिति के प्रमुख एमएसके प्रसाद ने टीम घोषित करते हुए कहा, ‘ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले तीन वनडे के लिए टीम का चयन बोर्ड की रोटेशन नीति के हिसाब से किया गया है और इसके अनुसार अश्विन और जडेजा को विश्राम दिया गया है।‘ १११ वनडे में १५० विकेट ले चुके अश्विन ने अपना आखिरी वनडे ३० जून को वेस्ट इंडीज में खेला था जबकि १३६ वनडे में १५५ विकेट ले चुके जडेजा ने अपना आखिरी वनडे जुलाई में वेस्ट इंडीज में ही खेला था।

Google News
Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

क्राइस्टचर्च: कॉमनवेल्थ कैडेट फेंसिंग चैंपियनशिप में सेजल के दमदार प्रदर्शन के साथ भारत ने जीता रजत पदक क्राइस्टचर्च: कॉमनवेल्थ कैडेट फेंसिंग चैंपियनशिप में सेजल के दमदार प्रदर्शन के साथ भारत ने जीता रजत पदक
क्राइस्टचर्च/दक्षिण भारत। सेजल गुलिया ने न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में आयोजित कॉमनवेल्थ कैडेट फेंसिंग चैंपियनशिप में भारत के सराहनीय प्रदर्शन में...
तटीय कर्नाटक में रेलवे विकास कार्यों में तेजी लाई जाएगी: केंद्रीय मंत्री सोमन्ना
ट्रंप पर हमले में ईरान का हाथ? जनरल सुलेमानी की हत्या होने के बाद खाई थी यह कसम!
कर्नाटक: वाल्मीकि निगम घोटाला मामले में ईडी ने पूर्व मंत्री नागेंद्र की पत्नी से पूछताछ की
बांग्लादेश में लगी आरक्षण आंदोलन की आग, झड़पों में कई लोगों की मौत
कई नेताओं ने छोड़ी अजित पवार की राकांपा, सु​प्रिया बोलीं- 'लोग बड़ी उम्मीदों से देख रहे'
कर्नाटक ने निजी क्षेत्र में कन्नड़ लोगों के लिए 100% कोटा अनिवार्य करने वाले विधेयक को मंजूरी दी