मादक पदार्थ मामले में बयान दर्ज कराने एनसीबी कार्यालय पहुंचीं दीपिका पादुकोण

मादक पदार्थ मामले में बयान दर्ज कराने एनसीबी कार्यालय पहुंचीं दीपिका पादुकोण

मादक पदार्थ मामले में बयान दर्ज कराने एनसीबी कार्यालय पहुंचीं दीपिका पादुकोण

अभिनेत्री दीपिका पादुकोण

मुंबई/भाषा। अभिनेत्री दीपिका पादुकोण अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत से संबंधित मादक पदार्थ मामले की जांच के सिलसिले में बयान दर्ज कराने के लिए शनिवार सुबह दक्षिण मुंबई स्थित एनसीबी कार्यालय पहुंचीं। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।

दीपिका एक छोटी कार में सुबह 9:50 बजे कोलाबा में एनसीबी अतिथि गृह पहुंचीं। स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (एनसीबी) के दफ्तर के बाहर भारी संख्या में पुलिस तैनात है और दफ्तर के बाहर बैरिकेड लगाए गए हैं। वहां बड़ी संख्या में मीडियाकर्मी इकट्ठे हुए हैं।

दीपिका को एनसीबी ने बॉलीवुड-मादक पदार्थों के कथित गठजोड़ की जांच के सिलसिले में पूछताछ के लिए बुलाया है। ऐसी खबरें थीं कि दीपिका के पति अभिनेता रणवीर सिंह ने एजेंसी से पूछा है कि क्या वह उनकी पत्नी से पूछताछ के दौरान वहां मौजूद रह सकते हैं।

हालांकि, एनसीबी ने शुक्रवार को स्पष्ट किया कि उन्हें ऐसा कोई अनुरोध नहीं मिला है। दो अन्य बॉलीवुड अभिनेत्रियों श्रद्धा कपूर और सारा अली खान को भी शनिवार को जांच एजेंसी ने पूछताछ के लिए बुलाया है।

अभिनेत्री दीपिका पादुकोण की मैनेजर करिश्मा प्रकाश को भी शनिवार को पूछताछ में शामिल होने को कहा गया है। करिश्मा अपना बयान दर्ज कराने के लिए शुक्रवार को एनसीबी के सामने पेश हुई थीं।

एनसीबी के सूत्रों ने बताया था कि करिश्मा प्रकाश के वॉट्सऐप चैट से किसी ‘डी’ के साथ हुई उनकी बातचीत का पता चला और केंद्रीय एजेंसी जानना चाहती है कि यह व्यक्ति कौन है।

Google News
Tags:

About The Author

Related Posts

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

बीते 10 वर्षों में जनजातीय समाज, गरीबों, युवाओं, महिलाओं को सर्वोच्च प्राथमिकता बनाकर काम किया: मोदी बीते 10 वर्षों में जनजातीय समाज, गरीबों, युवाओं, महिलाओं को सर्वोच्च प्राथमिकता बनाकर काम किया: मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा कि मैंने संकल्प लिया था कि सिंदरी के इस खाद कारखाने को जरूर शुरू करवाऊंगा
विधानसभा अध्यक्ष के आदेश के खिलाफ ठाकरे गुट की याचिका पर 7 मार्च को सुनवाई करेगा उच्चतम न्यायालय
बांग्लादेश: ढाका की बहुमंजिला इमारत में आग लगने से 45 लोगों की मौत
हिंसा का चक्र कब तक?
उदित राज ने भाजपा पर दलितों, पिछड़ों, महिलाओं और आदिवासियों की अनदेखी का आरोप लगाया
केंद्रीय कैबिनेट ने 75 हजार करोड़ रुपए की रूफटॉप सोलर योजना को मंजूरी दी
मंदिर संबंधी विधेयक कर्नाटक विधानसभा से फिर पारित हुआ