जातिवाद, परिवारवाद और वोटबैंक के भरोसे बैठे इंडि गठबंधन की नींद उड़ रही है: मोदी

प्रधानमंत्री ने उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ में विभिन्न विकास परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया

जातिवाद, परिवारवाद और वोटबैंक के भरोसे बैठे इंडि गठबंधन की नींद उड़ रही है: मोदी

प्रधानमंत्री ने कहा कि साल 2024 में भी किए जा रहे शिलान्यासों को कोई चुनाव के चश्मे से न देखे

आजमगढ़/दक्षिण भारत। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ में विभिन्न विकास परियोजनाओं का शिलान्यास एवं लोकार्पण किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि आज यहां से केवल आजमगढ़ नहीं, बल्कि पूरे देश के लिए कई विकास परियोजनाओं का शुभारंभ हो रहा है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि जिस आजमगढ़ को देश के पिछड़े इलाकों में गिनते थे, आज वही देश के लिए विकास का नया अध्याय लिख रहा है। आज आजमगढ़ से कई राज्यों में करीब 34 हजार करोड़ रुपए के प्रोजेक्ट्स का लोकार्पण और शिलान्यास हुआ है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि साल 2024 में भी किए जा रहे शिलान्यासों को कोई चुनाव के चश्मे से न देखे। ये विकास के लिए मेरी अनंत यात्रा का परिणाम है। मैं साल 2047 तक, देश को विकसित भारत बनाने के लिए तेज गति से दौड़ रहा हूं और देश को तेज गति से दौड़ा रहा हूं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आपका यह प्यार और आजमगढ़ का यह विकास ... जातिवाद, परिवारवाद और वोटबैंक के भरोसे बैठे इंडि गठबंधन की नींद उड़ा रहा है। पूर्वांचल ने दशकों तक जातिवाद और तुष्टीकरण की राजनीति देखी है और पिछले 10 वर्षों से यह क्षेत्र विकास की राजनीति भी देख रहा है। यहां के लोगों ने माफियाराज और कट्टरपंथ के खतरों को भी देखा है और अब यहां की जनता कानून का राज भी देख रही है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत की प्रगति से नाखुश कुछ लोगों का कहना है कि चुनाव से पहले इतनी सारी परियोजनाओं का उद्घाटन राजनीतिक प्रलोभन है। मैं उन्हें याद दिलाना चाहता हूं कि पहले क्या होता था ... नेता चुनाव से पहले परियोजनाओं की घोषणा करते थे, लेकिन उन्हें कभी पूरा नहीं करते थे। आज देश देख रहा है कि जिन परियोजनाओं का शिलान्यास मैंने पहले किया, उनका उद्घाटन भी मेरे द्वारा ही किया गया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि किसानों को आज पहले की तुलना में कई गुना बढ़ी हुई एमएसपी दी जा रही है। गन्ना किसानों के लिए भी इस साल लाभकारी मूल्य में 8 प्रतिशत की वृद्धि की गई है। अब गन्ने का लाभकारी मूल्य 315 रुपए से बढ़कर 340 रुपए प्रति क्विंटल हो गया है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आप लोगों को याद है ना कि कैसे इसी उत्तर प्रदेश में सरकार चलाने वालों ने गन्ना किसानों को रुलाया था। उनका पैसा ही तरसा-तरसा कर दिया जाता था या मिलता ही नहीं था। यह भाजपा की सरकार है, जिसने गन्ना किसानों का हजारों करोड़ का बकाया खत्म कराया है। आज गन्ना किसानों को सही समय पर गन्ने का मूल्य मिल रहा है।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News

'हाई लाइफ ज्वेल्स' में फैशन के साथ नजर आएगी आभूषणों की अनूठी चमक 'हाई लाइफ ज्वेल्स' में फैशन के साथ नजर आएगी आभूषणों की अनूठी चमक
हाई लाइफ ज्वेल्स 100 से ज्यादा प्रीमियम आभूषण ब्रांड्स को एक छत के नीचे लाता है
एआरई एंड एम ने आईआईटी, तिरुपति में डॉ. आरएन गल्ला चेयर प्रोफेसरशिप की स्थापना के लिए एमओए किया
बजट में किफायती आवास को प्राथमिकता देने के लिए सरकार का दृष्टिकोण प्रशंसनीय: बिजय अग्रवाल
काठमांडू हवाईअड्डे पर उड़ान भरते समय विमान दुर्घटनाग्रस्त, 18 लोगों की मौत
बजट में मध्यम वर्ग और ग्रामीण आबादी को सशक्त बनाने पर जोर सराहनीय: कुमार राजगोपालन
बजट में कौशल विकास पर दिया गया खास ध्यान: नीरू अग्रवाल
भारत को बुलंदियों पर लेकर जाएगी अंतरिक्ष अर्थव्यवस्था: अनिरुद्ध ए दामानी