‘पद्म श्री’ सम्मान पाने पर क्या बोलीं रवीना टंडन?

उन्होंने कहा कि 2023 की शुरुआत अच्छी हुई है

‘पद्म श्री’ सम्मान पाने पर क्या बोलीं रवीना टंडन?

रवीना ने कहा, ‘यह साल पुरस्कारों का रहा है'

मुंबई/भाषा। अभिनेत्री रवीना टंडन का कहना है कि उन्हें इस बात की खुशी है कि देश के चौथे सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार ‘पद्म श्री’ के माध्यम से मुख्यधारा और स्वतंत्र सिनेमा दोनों में उनके काम को मान्यता मिली है।

अभिनेत्री का नाम पद्म पुरस्कार से सम्मानित उन लोगों में शामिल है, जिनकी घोषणा गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर की गई। उन्होंने कहा कि 2023 की शुरुआत अच्छी हुई है।

रवीना ने कहा, ‘यह साल पुरस्कारों का रहा है। ‘केजीएफ 2’ और ‘अरण्यक’ से इसकी शुरुआत हुई। लेकिन यह (पद्म श्री) इन सबमें सर्वश्रेष्ठ है, क्योंकि यह मेरे पूरे काम को समाहित करता है। यह व्यावसायिक सफलताओं, गीतों, सब कुछ को समाहित करता है जिन्हें लोग आज भी याद करते हैं।’

रवीना 1990 के दशक की चर्चित अभिनेत्री रही हैं। उन्होंने ‘मोहरा’, ‘दिलवाले’ और ‘दूल्हे राजा’ जैसी हिट फिल्में दीं। वहीं उन्होंने ‘दमन’, ‘सत्ता’ और ‘शूल’ जैसी गैर व्यावसायिक फिल्में भी की। अभिनेत्री ने नेटफ्लिक्स की सीरीज ‘अरण्यक’ से ‘स्ट्रीमिंग’ मंच पर सफल पारी की शुरुआत की है।

अभिनेत्री ने कहा, ‘यह सोचकर अच्छा लगता है कि ऐसे लोग हैं, जो हमारे काम को देखते हैं और उसे पसंद करते हैं। इस यात्रा में जो लोग मेरे साथ रहे हैं और जिन्होंने मेरा समर्थन किया है, उनका मैं शुक्रिया अदा करना चाहती हूं।’

मुख्यधारा की फिल्मों में आम तौर पर पुरुषों का वर्चस्व रहता है, लेकिन रवीना खुद को ‘भाग्यशाली’ मानती हैं कि उन्हें ‘सत्ता’, ‘शूल’ और ‘दमन’ जैसी फिल्मों में काम करने का मौका मिला। इसके लिए उन्होंने सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का राष्ट्रीय पुरस्कार भी जीता था।

Google News

About The Author

Post Comment

Comment List

Advertisement

Latest News